• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • साइंस और टेक्नोलॉजी मंत्रालय से संबंधित स्टैंडिंग कमेटी की बैठक में बीजेपी सांसदों ने जताई आपत्ति, जानिए कारण

साइंस और टेक्नोलॉजी मंत्रालय से संबंधित स्टैंडिंग कमेटी की बैठक में बीजेपी सांसदों ने जताई आपत्ति, जानिए कारण

बैठक का एजेंडा कोरोना वायरस के आ रहे नए-नए वैरिएंट और उससे निपटने को लेकर हो रहे रिसर्च और काम की जानकारी पर बातचीत करना था.

बैठक का एजेंडा कोरोना वायरस के आ रहे नए-नए वैरिएंट और उससे निपटने को लेकर हो रहे रिसर्च और काम की जानकारी पर बातचीत करना था.

बैठक का एजेंडा कोरोना वायरस के आ रहे नए-नए वैरिएंट और उससे निपटने को लेकर हो रहे रिसर्च और काम की जानकारी पर बातचीत करना था. हालांकि बैठक शुरू होते ही विपक्ष के सांसदों ने वैक्सीनेशन का मुद्दा उठाया और ये सवाल पूछने लगे कि वैक्सीन की खरीद, कीमत और वैक्सीनेशन में गैप क्यों?

  • Share this:
नई दिल्ली. साइंस और टेक्नोलॉजी मंत्रालय से संबंधित स्टैंडिंग कमेटी की बैठक में बीजेपी सांसदों ने जमकर हंगामा किया. सूत्रों के मुताबिक जब कांग्रेस के सांसदों ने वैक्सीन की खरीद, कीमत और वैक्सीन के गैप पर सवाल किए तो बीजेपी सांसदों ने आपत्ति जताई. दरअसल आज होने वाली स्टैंडिंग कमेटी की बैठक का एजेंडा था कोविड वैक्सीन का डेवलपमेंट, कोरोना वायरस और उसके वेरिएंट की जेनेटिक सिक्वेंसिंग. इस मुद्दे पर बातचीत करने के लिए स्टैंडिंग कमेटी ने के विजय राघवन, वीके पॉल समेत अन्य अधिकारियों को बुलाया था.

बैठक का एजेंडा कोरोना वायरस के आ रहे नए-नए वैरिएंट और उससे निपटने को लेकर हो रही रिसर्च और काम की जानकारी पर बातचीत करना था. हालांकि बैठक शुरू होते ही विपक्ष के सांसदों ने वैक्सीनेशन का मुद्दा उठाया और ये सवाल पूछने लगे कि वैक्सीन की खरीद, कीमत और वैक्सीनेशन में गैप क्यों?

वैक्सीन के नाम पर राजनीति नहीं करनी चाहिए
इस पर बीजेपी सांसदों ने ये कहते हुए आपत्ति जताई कि ये सवाल इस कमेटी के दायरे में नहीं आता है. कमेटी के दायरे में वैक्सीन का रिसर्च, R&D, तकनीक आदि मामले आते हैं. कांग्रेस सांसदों के लगातार वैक्सीन को लेकर उठाए जा रहे सवाल पर बीजेपी सांसदों ने कहा कि ये स्टैंडिंग कमेटी है यहां विपक्ष को वैक्सीन के नाम पर राजनीति नहीं करनी चाहिए.

बाद में कमेटी के चेयरमैन जयराम रमेश के आश्वासन के बाद बीजेपी सांसद बैठक में लौटे और फिर जिन अधिकारियों को बुलाया गया था उनसे बातचीत की गयी.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज