• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • मेघालय: विद्रोहियों ने लोगों को चेताया, कहा- उपचुनाव में सत्ताधारी दल को वोट ना दें

मेघालय: विद्रोहियों ने लोगों को चेताया, कहा- उपचुनाव में सत्ताधारी दल को वोट ना दें

मेघालय: विद्रोहियों ने उपचुनाव में सत्ताधारी दल को वोट देने के खिलाफ लोगों को चेताया. (सांकेतिक फोटो)

मेघालय: विद्रोहियों ने उपचुनाव में सत्ताधारी दल को वोट देने के खिलाफ लोगों को चेताया. (सांकेतिक फोटो)

HNLC के महासचिव-सह-प्रवक्ता साईंकुपर नोंगट्रॉ ने बुधवार देर रात एक ईमेल विज्ञप्ति में कहा, 'हमने लोगों से हाइनीवट्रेप नेशनल लिबरेशन काउंसिल का पूर्व स्वयंभू महासचिव चेरिस्टरफ़ील्ड थांगखिव की हत्‍या के विरोध में उपचुनाव (By-Election) में सत्तारूढ़ नेशनल पीपुल्स पार्टी (NPP) को वोट नहीं देने का आग्रह किया है.'

  • Share this:

    शिलांग. मेघालय (Meghalaya) में प्रतिबंधित हाइनिवट्रेप नेशनल लिबरेशन काउंसिल (HNLC) ने राज्य के नागरिकों से आगामी 30 अक्टूबर को तीन विधानसभा सीटों ( Assembly seats) के लिए होने वाले उप-चुनावों (By-Election) में सत्तारूढ़ नेशनल पीपुल्स पार्टी (NPP) को वोट नहीं देने के लिए कहा है. यही नहीं विद्रोहियों ने एनपीपी को एक सप्‍ताह का अल्‍टीमेटम देते हुए कहा है कि खासी और जयंतिया हिल्स जैसे जिलों में सरकार सभी सुविधाओं को बंद कर दे.

    एचएनएलसी के महासचिव-सह-प्रवक्ता साईंकुपर नोंगट्रॉ ने बुधवार देर रात एक ईमेल विज्ञप्ति में कहा, ‘हमने लोगों से हाइनीवट्रेप नेशनल लिबरेशन काउंसिल का पूर्व स्वयंभू महासचिव चेरिस्टरफ़ील्ड थांगखिव की हत्‍या के विरोध में उपचुनाव में एनपीपी को वोट नहीं देने का आग्रह किया है.’ गौरतलब है कि 13 अगस्त को पुलिस मुठभेड़ में प्रतिबंधित एचएनएलसी का पूर्व स्वयंभू महासचिव चेरिस्टरफ़ील्ड थांगखिव मारा गया था जिसके बाद शिलांग के मावलाई और जयआ इलाके में हिंसा भड़क गई थी. पुलिस ने शुक्रवार को तड़के थांगखिव के घर पर छापेमारी की थी. थांगखिव ने वर्ष 2018 में आत्मसमर्पण किया था और कथित तौर पर 10 अगस्त को हुए आईईडी धमाके में शामिल था.

    नोंगट्रॉ ने कहा कि मेघालय में राष्ट्रीय दल आते हैं और जाते हैं, लेकिन उनमें से कोई भी वास्तव में राज्य के लोगों की सेवा नहीं करता है. उन्‍होंने कहा कि मुझे लगता है कि राष्ट्रीय दल कभी भी राज्य के सामने आने वाली समस्याओं का समाधान नहीं कर सकते हैं. हमें अब अपने स्वयं के क्षेत्रीय दलों की आवश्यकता है जो लोगों की आकांक्षाओं को पूरा कर सके और राज्‍य का विकास कर सके.

    संगठन के नेता ने एनपीपी को आज से खासी और जयंतिया हिल्स क्षेत्र में अपने सभी कार्यालयों को बंद करने का निर्देश दिया है. एचएनएलसी ने चेतावनी देते हुए कहा कि हम केवल एक सप्‍ताह का समय दे रहे हैं अगर तब तक सरकारी दोनों जिलों से अपनी योजनाओं को बंद नहीं करती है तो इसका परिणाम आगे भुगतना होगा.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज