• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • महबूबा मुफ्ती ने लगाए पत्रकारों के शोषण के आरोप, PCI से कहा- जम्‍मू कश्‍मीर भेजें जांच टीम

महबूबा मुफ्ती ने लगाए पत्रकारों के शोषण के आरोप, PCI से कहा- जम्‍मू कश्‍मीर भेजें जांच टीम

महबूबा मुफ्ती ने पीसीआई को लिखा पत्र. (File pic)

महबूबा मुफ्ती ने पीसीआई को लिखा पत्र. (File pic)

महबूबा मुफ्ती (Mehbooba Mufti) ने प्रेस काउंसिल ऑफ इंडिया (PCI) को पत्र लिखकर स्‍वतंत्र फैक्‍ट फाइंडिंग टीम को जम्‍मू कश्‍मीर भेजने की मांग की है.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

    श्रीनगर. जम्‍मू कश्‍मीर (Jammu Kashmir) की पूर्व मुख्‍यमंत्री और पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती (Mehbooba Mufti) ने घाटी में पत्रकारों (Journalists) के शोषण के आरोप लगाए हैं. उन्‍होंने इस संबंध में प्रेस काउंसिल ऑफ इंडिया (PCI) को पत्र लिखकर स्‍वतंत्र फैक्‍ट फाइंडिंग टीम को जम्‍मू कश्‍मीर भेजने की मांग की है.

    पीसीआई को लिखे पत्र में महबूबा मुफ्ती ने कहा है, ‘हमने देखा है कि जिस तरह से भारतीय संविधान में दिए गए बोलने की स्‍वतंत्रता के अधिकार और अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता जैसे मौलिक अधिकारों पर तेजी से हमले हुए हैं, ऐसा खासकर पिछले दो साल में एक असुरक्षित सरकार द्वारा किया गया है.’

    उन्‍होंने आगे लिखा है, ‘पत्रकारों का अनुचित उत्पीड़न आदर्श बन गया है और इस नीति को उनके घरों पर छापा मारकर, उन्हें तलब करके और ट्वीट जैसे आधार बताकर उनसे पूछताछ करके लागू किया गया है. इनमें सीआईडी द्वारा पत्रकारों और उनके परिवार के सदस्यों जांच करना, कुछ वरिष्ठ पत्रकारों के घर सहित दिए गए अन्‍य लाभ वापस लेना, मोबाइल फोन, लैपटॉप, पासपोर्ट, एटीएम कार्ड समेत अन्‍य सामान की जब्ती शामिल है.’

    महबूबा मुफ्ती का कहना है कि घाटी के करीब 23 पत्रकारों को सरकार द्वारा नियंत्रण सूची में डाला गया है. जबकि विदेश में पढ़ाई कर रहे स्‍कॉलर्स को भी देश के बाहर नहीं जाने दिया जा रहा है.

    मुफ्ती ने पत्र में कहा है कि उम्मीद थी कि प्रेस काउंसिल ऑफ इंडिया इन रिपोर्ट की गई घटनाओं पर स्वत: संज्ञान लेगी, लेकिन ऐसा लगता है कि अदालतों सहित किसी भी स्थापित निगरानी मंच ने जम्मू-कश्मीर में उत्‍पन्‍न हुई दर्दनाक परिस्थितियों में कोई दिलचस्पी नहीं ली है. उन्‍होंने आगे कहा है, ‘इसलिए यह मेरी जिम्‍मेदारी हो जाती है कि मैं आपसे इन दावों को स्वतंत्र रूप से सत्यापित करने और उपचारात्मक कार्रवाई करने के लिए जम्मू-कश्मीर में एक फैक्‍ट फाइंडिंग टीम भेजने की मांग करूं.’

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज