अपना शहर चुनें

States

जम्मू-कश्मीर में कभी बहाल नहीं होगा अनुच्छेद-370, गुपकर गठबंधन लोगों को बना रहा बेवकूफः बीजेपी

नेशनल कॉन्फ्रेंस नेता फारुक अब्दुल्ला की अगुवाई में राज्य की क्षेत्रीय पार्टियों ने गठबंधन किया है.
नेशनल कॉन्फ्रेंस नेता फारुक अब्दुल्ला की अगुवाई में राज्य की क्षेत्रीय पार्टियों ने गठबंधन किया है.

बीजेपी नेता शाहनवाज हुसैन (BJP Shahnawaz Hussain) ने कहा कि गुपकर गठबंधन (People's Alliance for Gupkar Declaration) के नेता अनुच्छेद 370 के मुद्दे पर लोगों को भ्रमित कर रहे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 20, 2020, 10:07 PM IST
  • Share this:
श्रीनगर. बीजेपी ने शुक्रवार को कहा कि पिछले साल केंद्र द्वारा निरस्त कर दिया गया अनुच्छेद-370 जम्मू कश्मीर में कभी बहाल नहीं होगा. इसके साथ ही पार्टी ने आरोप लगाया कि 'गुपकर गठबंधन' (People's Alliance for Gupkar Declaration) में शामिल पार्टियां इसकी बहाली के वादे कर लोगों को दिग्भ्रमित कर रही हैं.

बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता शाहनवाज हुसैन ने कहा कि आगामी जिला विकास परिषद (DDC) के चुनाव स्थानीय विकास के मुद्दों पर लड़े जा रहे हैं और इसके नतीजे केंद्र के पिछले साल के फैसले पर जनमत संग्रह नहीं होंगे.

उन्होंने कहा, "हम मानते हैं कि जब किसी की मृत्यु हो जाती है तो वह कब्र से वापस नहीं लौट सकता. अनुच्छेद 370 को भी दफन कर दिया गया है और यह कभी वापस नहीं लौटेगा. इसे कभी भी बहाल नहीं किया जा सकता है और विश्व की कोई भी शक्ति इसकी बहाली में मदद नहीं कर सकती है."



हुसैन चुनावों के लिए कश्मीर के पार्टी प्रभारी हैं. उन्होंने दावा किया कि नेशनल कॉन्फ्रेंस (National Conference) अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला (Farooq Abdulla) और पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती (Mehbooba Mufti) सपने दिखा कर लोगों को मूर्ख बना रहे हैं. उन्होंने जोर दिया कि उनके सपने कभी पूरे नहीं होंगे.
हुसैन ने कहा, ‘‘... ये वही नेता हैं जो दावा कर रहे थे कि अनुच्छेद 370 को हटाया नहीं जा सकता. उन्होंने यहां तक कहा कि अगर इसे निरस्त कर दिया गया तो जम्मू कश्मीर में कोई भी तिरंगा नहीं उठाएगा. लेकिन लोग अब बिना किसी आपत्ति के तिरंगा उठा रहे हैं.”

ये भी पढ़ेंः देश की भावनाओं के हिसाब से चले 'गुपकर गैंग', वरना जनता उसे डुबो देगी: शाह

उन्होंने कहा कि गुपकर गठबंधन के नेताओं ने अनुच्छेद 370 को निरस्त करने के केंद्र के फैसले को स्वीकार कर लिया था.

ये भी पढ़ेंः गुपकर घोषणापत्र पर बीजेपी ने साधा निशाना, कहा- यह गठबंधन सिर्फ सत्ता के पीछे

हुसैन ने कहा, ‘‘उन्होंने इस फैसले को स्वीकार कर लिया है और अब चुनावों में भाग ले रहे हैं. वे एक साथ हो गए हैं. उन्होंने जम्मू कश्मीर के लोगों को मूर्ख बनाया है. उन्होंने अपनी कुर्सी बचाने के लिए राज्य के युवाओं के शवों पर राजनीति की है. उन्होंने पाप किया है और उन्हें कोई माफ नहीं करेगा.’’

डीडीसी चुनावों के संदर्भ में उन्होंने कहा कि बीजेपी का चुनाव चिन्ह कमल देश के बाकी हिस्सों की तरह घाटी में भी खिलेगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज