अंबेडकर अगर जिंदा होते, तो भाजपा उन्हें भी पाकिस्तान समर्थक बता चुकी होती: महबूबा मुफ्ती

पीडीपी अध्यक्ष और जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती. (पीटीआई फाइल फोटो)

Mehbooba Mufti Article 370: महबूबा मुफ्ती ने कहा कि अनुच्छेद 370 को अंबेडकर द्वारा तैयार किये गये संविधान से मान्यता मिली थी, लेकिन केंद्र ने उसे तहस-नहस कर डाला.

  • Share this:

    श्रीनगर. अनुच्छेद 370 पर टिप्पणी करने को लेकर कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह की आलोचना के बीच पीडीपी अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती ने रविवार को कहा कि आज अगर भारतीय संविधान के निर्माता बी आर अंबेडकर जीवित होते तो भाजपा ने उन्हें भी पाकिस्तान समर्थक करार दिया होता.


    महबूबा ने कहा कि अनुच्छेद 370 को अंबेडकर द्वारा तैयार किये गये संविधान से मान्यता मिली थी, लेकिन केंद्र ने उसे तहस-नहस कर डाला. गौरतलब है कि पूर्ववर्ती जम्मू कश्मीर राज्य को विशेष दर्जा देने वाले इस अनुच्छेद को अगस्त 2019 में केंद्र ने निष्प्रभावी बना दिया था.


    दिग्विजय सिंह के बयान से अनुच्छेद 370 पर भड़की आग, रविशंकर बोले- कांग्रेस करे रुख साफ


    पीडीपी प्रमुख का बयान सोशल मीडिया पर एक ऑडियो चैट पर सिंह द्वारा कथित रूप से दिये गये बयान पर उनकी और कांग्रेस की हो रही आलोचना के बीच आया है. सिंह ने कथित रूप से कहा था कि सत्ता में आने पर उनकी पार्टी अनुच्छेद 370 को निष्प्रभावी बनाये जाने एवं जम्मू कश्मीर को पूर्ण राज्य का दर्जा दिलाने पर 'पुनर्विचार' करेगी. इसपर भाजपा ने कहा कि सिंह की टिप्पणी पाकिस्तान के साथ कांग्रेस की 'मिलीभगत' के व्यापक पैटर्न का हिस्सा है.




    जम्मू कश्मीर में कुछ समय तक सत्ता में भाजपा की साझेदार रही पीडीपी की मुखिया ने अपनी पूर्व सहयोगी पार्टी पर निशाना साधते हुए ट्वीट किया, ‘भला हो भगवान का कि आज अंबेडकर जिंदा नहीं हैं, अन्यथा भाजपा द्वारा उन्हें भी पाकिस्तान समर्थक करार देकर बदनाम किया जाता.’


    (Disclaimer: यह खबर सीधे सिंडीकेट फीड से पब्लिश हुई है. इसे News18Hindi टीम ने संपादित नहीं किया है.)

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.