जम्‍मू-कश्‍मीर: 'गुपकार समझौते' पर आज फारूक अब्‍दुल्‍ला के घर बैठक, महबूबा मुफ्ती भी होंगी शामिल

आज जम्‍मू कश्‍मीर के नेताओं की होनी है अहम बैठक.
आज जम्‍मू कश्‍मीर के नेताओं की होनी है अहम बैठक.

नेशनल कॉन्‍फ्रेंस के प्रमुख फारूक अब्‍दुल्‍ला ने यह बैठक बुलाई है. इस बैठक में फारूक अब्‍दुल्‍ला और महबूबा मुफ्ती के अलावा उमर अब्‍दुल्‍ला, सज्‍जाद लोन समेत कश्‍मीर के अन्‍य नेता शामिल होंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 15, 2020, 1:53 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. जम्‍मू-कश्‍मीर (Jammu Kashmir) की पूर्व मुख्‍यमंत्री और पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती (Mehbooba mufti) को हाल ही में नजरबंदी से रिहाई दी गई है. रिहा होने के बाद महबूबा मुफ्ती जम्‍मू कश्‍मीर में फिर सियासी तौर पर सक्रिय हो गई हैं. उनकी रिहाई के बाद कश्‍मीर में सियासी गतिविधियों में भी अचानक बढ़ोतरी हुई है. इस बीच महबूबा मुफ्ती और नेशनल कॉन्‍फ्रेंस के नेताओं के बीच बैठक भी हो चुकी है. अब गुरुवार को फारूक अब्‍दुल्‍ला (Farooq Abdullah) और महबूबा मुफ्ती के बीच एक और अहम बैठक होने वाली है. इसमें दोनों नेताओं के अलावा कश्‍मीर के अन्‍य नेता भी मौजूद रहेंगे. इन नेताओं को हाल ही में रिहा किया गया है.

नेशनल कॉन्‍फ्रेंस के प्रमुख फारूक अब्‍दुल्‍ला ने यह बैठक बुलाई है. इस बैठक में फारूक अब्‍दुल्‍ला और महबूबा मुफ्ती के अलावा उमर अब्‍दुल्‍ला, सज्‍जाद लोन समेत कश्‍मीर के अन्‍य नेता शामिल होंगे. बता दें कि जम्‍मूृ-कश्‍मीर से अनुच्‍छेद 370 हटाए जाने और इन नेताओं की रिहाई के बाद यह पहली बैठक होने जा रही है. इन सभी नेताओं ने अनुच्‍छेद 370 को हटाए जाने को गलत बताया है.

वहीं गुपकार प्रस्‍ताव पर होने वाली बैठक को लेकर सभी की नजरें गड़ी हुई हैं. दरअसल जम्‍मू-कश्‍मीर से अनुच्‍छेद 370 हटाए जाने से एक दिन पहले यानी 4 अगस्‍त, 2019 को फारूक अब्‍दुल्‍ला के गुपकार स्थित घर पर एक फैसले की घोषणा की गई थी.

इस प्रस्ताव में कहा गया था कि राज्‍य के सभी राजनीतिक दलों ने सर्वसम्मति से फैसला किया है कि जम्मू-कश्मीर की पहचान, स्वायत्तता और उसके विशेष दर्जे को संरक्षित करने के लिए वे मिलकर प्रयास करेंगे. इसीलिए इसे गुपकार समझौता कहा जा रहा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज