तिरंगा पर बयान देकर फंसी महबूबा, बीजेपी के बाद अब कांग्रेस ने साधा निशाना

महबूबा राष्ट्रीय ध्वज को लेकर भड़काऊ और गैर जिम्मेदाराना टिप्पणी से बचे : जम्मू-कश्मीर कांग्रेस (AP)
महबूबा राष्ट्रीय ध्वज को लेकर भड़काऊ और गैर जिम्मेदाराना टिप्पणी से बचे : जम्मू-कश्मीर कांग्रेस (AP)

Congress asks Mehbooba Mufti to desist from making provocative: तिरंगे को लेकर महबूबा मुफ्ती द्वार दिए गए बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए जम्मू-कश्मीर प्रदेश कांग्रेस समिति (जेकेपीसीसी) के मुख्य प्रवक्ता रविंद्र शर्मा ने कहा कि यह बहुत ही भड़काऊ और गैर जिम्मेदाराना बयान है और उन्होंने लोगों की देशभक्ति की भावना को आहत किया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 24, 2020, 7:35 PM IST
  • Share this:
जम्मू. कांग्रेस (Congress) की जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) इकाई ने शनिवार को पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती (Mehbooba Mufti) से कहा कि वह राष्ट्रीय ध्वज को लेकर भड़काऊ और गैर जिम्मेदाराना बयान देने से बचें. इसके साथ ही पार्टी इकाई ने पीडीपी प्रमुख (PDP Chief) की तिरंगे (Tiranga) को लेकर दिए गए बयान की कड़ी निंदा की.

तिरंगे को लेकर महबूबा मुफ्ती द्वार दिए गए बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए जम्मू-कश्मीर प्रदेश कांग्रेस समिति (जेकेपीसीसी) के मुख्य प्रवक्ता रविंद्र शर्मा ने कहा कि यह बहुत ही भड़काऊ और गैर जिम्मेदाराना बयान है और उन्होंने लोगों की देशभक्ति की भावना को आहत किया है. उन्होंने कहा, 'इस तरह के बयान किसी भी समाज में बर्दाश्त योग्य नहीं है और अस्वीकार्य हैं.' शर्मा ने कहा कि राष्ट्रीय ध्वज देश के सम्मान और गौरव का प्रतीक है और लोगों को याद दिलाता है कि देश की स्वतंत्रता प्राप्त करने और देश के सम्मान और क्षेत्रीय अखंडता के लिए करोड़ों भारतीयों ने कुर्बानी दी है.

ये भी पढ़ें: अनुच्छेद 370 को वापस पाने के लिए J&K में बना अलायंस, फारुक बोले-हम BJP विरोधी हैं, देश विरोधी नहीं



ये भी पढ़ें: BJP ने महबूबा मुफ्ती के बयान को बताया 'देशद्रोही', उप राज्यपाल से की गिरफ्तारी की मांग
कांग्रेस नेता ने कहा, 'उन्हें इस तरह के भड़काऊ बयान देकर प्रत्येक भारतीय की भावनाओं को आहत करने से बचना चाहिए.' उल्लेखनीय है कि 14 महीने की हिरासत से रिहा होने के बाद पहली बार मीडिया से संवाद करते हुए महबूबा मुफ्ती ने शुक्रवार को कहा था कि वह तिरंगा तभी उठाएंगी जब जम्मू-कश्मीर के भूतपूर्व झंडे को बहाल कर दिया जाता है.

उन्होंने कहा, 'जहां तक मेरी बात है, तो चुनाव में मेरी रुचि नहीं है. मैं आपको स्पष्ट कर दूं कि जिस संविधान के तहत मैं चुनाव लड़ती थी उसे जबतक वापस नहीं कर दिया जाता तब तक मेरा चुनाव से कोई लेना देना नहीं है.' विरोध प्रकट करने के लिए प्रेस कांफ्रेंस के दौरान पीडीपी अध्यक्ष के टेबल पर राज्य के पूर्व झंडे को पार्टी के झंडे के साथ प्रमुखता से रखा गया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज