बीजेपी से गठबंधन करके जहर का प्याला पिया: महबूबा

महबूबा ने दावा किया कि उन्होंने बीजेपी के साथ गठबंधन इसलिए किया था क्योंकि उनकी पार्टी के विधायकों और वरिष्ठ नेताओं ने उन्हें बताया कि यदि वह बीजेपी के साथ सरकार बनाने के मुफ्ती मोहम्मद सईद के निर्णय के खिलाफ गईं तो वह उनका ‘अनादर’ होगा.

भाषा
Updated: July 28, 2018, 10:47 PM IST
बीजेपी से गठबंधन करके जहर का प्याला पिया: महबूबा
महबूबा मुफ्ती (File Photo)
भाषा
Updated: July 28, 2018, 10:47 PM IST
पीडीपी अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती ने शनिवार को कहा कि उन्होंने 2016 में अपने पिता के निधन के बाद बीजेपी के साथ गठबंधन मजबूरी में जारी रखकर ‘‘जहर का प्याला पिया.’’

महबूबा ने दावा किया कि उन्होंने बीजेपी के साथ गठबंधन इसलिए किया था क्योंकि उनकी पार्टी के विधायकों और वरिष्ठ नेताओं ने उन्हें बताया कि यदि वह बीजेपी के साथ सरकार बनाने के मुफ्ती मोहम्मद सईद के निर्णय के खिलाफ गईं तो वह उनका ‘अनादर’ होगा.

उन्होंने कहा, ‘‘अल्लाह गवाह है कि मेरी राजनीति मेरे पिता (सिद्धांतों) से शुरू हुई और उन्हीं पर समाप्त होगी. यही कारण है कि जब उन्होंने दुनिया छोड़ी तो मैं सरकार बनाने के लिए तैयार नहीं थी. मुझे तीन महीने का समय लगा. मैंने यह कभी नहीं सोचा था कि मैं मुख्यमंत्री बनूंगी. मैंने केवल जम्मू-कश्मीर के लोगों को वर्तमान स्थिति से बाहर निकालने के अपने पिता के एजेंडे को पूरा करने के बारे में सोचा.’’

श्रीनगर में अपनी पार्टी के 19वें स्थापना दिवस के मौके पर महबूबा ने कहा, ‘‘उस समय कार्यकर्ताओं, विधायकों और अन्य वरिष्ठ नेताओं ने मुझसे कहा कि निर्णय मुफ्ती साहब द्वारा किया गया था और आपको यह जहर पीना होगा और यह आग अपने सिर पर लेकर चलना होगा. यदि आप ऐसा नहीं करेंगी तो यह मुफ्ती साहब के निर्णय का अनादर होगा.’’

महबूबा ने कहा कि यहां तक कि जब उन्होंने बीजेपी के साथ सरकार बनाने की सहमति दी तो उन्होंने पार्टी नेताओं से कहा कि वे मुख्यमंत्री के तौर पर किसी अन्य व्यक्ति को चुन लें.
First published: July 28, 2018, 10:47 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...