मेहुल चोकसी ने कोर्ट में कहा- मैं डोमिनिका में सेफ नहीं, प्रत्यर्पण पर आज फिर सुनवाई

मेहुल चोकसी को लेकर डोमिनिका की अदालत में  आज सुनवाई होगी.

मेहुल चोकसी को लेकर डोमिनिका की अदालत में आज सुनवाई होगी.

Mehul Choksi hearing in Dominica court: 13578 करोड़ के पीएनबी घोटाले के आरोपी चोकसी को भारत लाने के लिए सीबीआई और ईडी की टीम की डोमिनिका पहुंची हैं. चोकसी के प्रत्यर्पण पर आज आएगा फैसला.

  • Share this:

नई दिल्ली. पंजाब नेशनल बैंक (PNB Scam) घोटाले के मास्टरमाइंड भगोड़े मेहुल चोकसी (Mehul Choksi) को डोमिनिका से वापस लाने की कोशिशें जारी हैं. चोकसी को लेकर डोमिनिका की कोर्ट में आज सुनवाई होनी है. कोर्ट फैसला करेगी कि उसे वापस एंटीा भेजा जाए या भारत को कस्टडी दी जाए. इससे पहले बुधवार को हुई सुनवाई में चोकसी ने कोर्ट में कहा कि वह डोमिनिका में सुरक्षित नहीं है.

एंटीगा और बारबुडा से हाल में फरार हुए चोकसी को पिछले सप्ताह डोमिनिका में पकड़ लिया गया था. चोकसी के फरार होने के बाद एंटीगा और बारबूडा के प्रधानमंत्री गेस्टॉन ब्राउनी ने कहा कि उन्होंने डोमिनिका को हीरा कारोबारी को सीधे भारत को सौंपने को कहा है.

13578 करोड़ के पीएनबी घोटाले के आरोपी चोकसी को भारत लाने के लिए सीबीआई और ईडी की टीम की डोमिनिका पहुंची हैं. ये दोनों ही टीमें इन सुनवाई के दौरान कोर्ट रूम में मौजूद रही.  इस सुनवाई में चोकसी इस सुनवाई में वीडियो कॉल के माध्यम से पेश हुआ.

पढ़ें सुनवाई से जुड़े अपडेट्स...
>> मेहुल चोकसी के प्रत्यर्पण से जुड़ी सुनवाई आज दोबारा शुरू होगी.

>> सूत्रों के हवाले से खबर मिली है कि चोकसी को 8 जून तक डोमिनिका में ही रहना होगा.

>> डोमिनिका सरकार ने भारत का समर्थन किया और अदालत में कहा कि चोकसी को भारत भेजा जाय वरना उसका केस अटक जाएगा.



>> ऐसी रिपोर्ट सामने आई है कि डोमिनिका मेहुल चोकसी को भारत भेजना चाहता है.

>> सात वकील मेहुल चोकसी की तरफ से उसकी पैरवी के लिए उतरे थे.

>> सुनवाई की वीडियो रिकॉर्डिंग करने की इजाजत नहीं दी गई है.

>> मेहुल चोकसी के वकील विजय अग्रवाल ने सुनवाई से पहले कहा कि मीडिया में ऐसी रिपोर्ट्स हैं कि चोकसी का भाई डोमिनिका की विपक्षी पार्टियों के साथ बातचीत कर रहा है. क्योंकि चोकसी का भाई उनकी सेहत के चलते उनसे देखने डोमिनिका आया था इसलिए लोग ऐसी बातें बना रहे हैं.

>> आठ सदस्यीय भारतीय अधिकारियों की टीम में रॉ, सीबीआई और ईडी के अधिकारी मौजूद हैं. इसके साथ ही सरकार ने त्रिनिदाद और टोबैगो के अपने हाई कमिश्नर को भी मदद के लिए भेजा है.

भारतीय अधिकारी चोकसी को लेकर अपने दावों को मजबूती से पेश करने के लिए सभी जरूरी कागजी तैयारी के साथ डोमिनिका गए हैं. इन दस्तावेजों में चोकसी के आधार, पैन कार्ड समेत राशन कार्ड भी शामिल हैं जिससे इस बात की पुष्टि हो सके कि चोकसी भारत का नागरिक है. ये सभी दस्तावेज अदालत के समक्ष प्रस्तुत किए जाएंगे.

चोकसी के खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस जारी किया गया था. सूत्रों के मुताबिक अगर डोमिनिका की अदालत इजाजत देती है तो ईडी कोर्ट को बताएगा कि उनकी कैद में मौजूद चोकसी भारत का अपराधी है, जो कि जनवरी 2018 फरार है. इसलिए रेड कॉर्नर नोटिस के आधार पर उसे भारत को सौंप दिया जाना चाहिए.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज