अपना शहर चुनें

States

'लव जिहाद' को लेकर 'मेट्रो मैन' का बड़ा बयान, कहा- केरल में हिंदू लड़कियों को बहकाया जा रहा

मेट्रो मैन ने कहा है कि अगर पार्टी की चाहेगी, तो वे चुनाव लड़ने के लिए तैयार हैं. (फाइल फोटो)
मेट्रो मैन ने कहा है कि अगर पार्टी की चाहेगी, तो वे चुनाव लड़ने के लिए तैयार हैं. (फाइल फोटो)

E. Sreedharan on Love Jihad: लव जिहाद को लेकर श्रीधरन ने अपना पक्ष साफ कर दिया है. उन्होंने कहा है कि वे इसके खिलाफ हैं. साथ ही उन्होंने दावा किया है कि केरल (Kerala) में हिंदू लड़कियों को बहकाया जा रहा है. वे इसके खिलाफ हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 20, 2021, 3:57 PM IST
  • Share this:
तिरुवनंतपुरम. मेट्रोमैन (Metro Man) के नाम से मशहूर ई श्रीधरन (E. Sreedharan) सियासी पारी की शुरुआत करने के लिए तैयार हैं. इससे पहले ही उन्होंने केरल के हालात को लेकर बड़ा बयान दिया है. उन्होंने दावा किया है कि राज्य में लव जिहाद (Love Jihad) हो रहा है. वहीं, उन्होंने इसे रोकने की बात भी कही है. श्रीधरन भारतीय जनता पार्टी (BJP) में शामिल होने जा रहे हैं. उन्होंने कहा है कि अगर पार्टी की चाहेगी, तो वे चुनाव लड़ने के लिए तैयार हैं. खास बात है कि उन्होंने मुख्यमंत्री पद की भी इच्छा जताई है.

लव जिहाद को लेकर श्रीधरन ने अपना पक्ष साफ कर दिया है. उन्होंने कहा है कि वे इसके खिलाफ हैं. साथ ही उन्होंने दावा किया है कि राज्य में हिंदू लड़कियों को बहकाया जा रहा है. वे इसके खिलाफ हैं. उन्होंने कहा 'मैंने देखा है कि केरल में क्या हुआ है. कैसे हिंदुओं को शादी के झांसे में फंसाया जाता है और कैसे वे इसे सहन करती हैं.' उन्होंने कहा 'केवल हिंदू, मुस्लिम ही नहीं, ईसाई लड़कियां को भी फंसाकर शादी की जा रही है.'

यह भी पढ़ें: BJP में शामिल होने से पहले श्रीधरन को उम्‍मीद, केरल में CM बनने का मिलेगा मौका



शुक्रवार को एनडीटीवी से बातचीत में उन्होंने कहा 'मैंने बीजेपी में शामिल होने का फैसला कर लिया है, केवल औपचारिकता रह गई है.' बीजेपी में शामिल होने को लेकर उन्होंने कहा 'मैं केरल में रिटायरमेंट के बाद बीते 10 सालों से रह रहा हूं. मैंने कई सरकारें देखी हैं और लोगों के लिए जो किया जा सकता है, वे नहीं कर रही हैं.' उन्होंने बताया 'अपने अनुभव का इस्तेमाल कर मैं अपनी भूमिका अदा करने के लिए बीजेपी में शामिल हो रहा हूं.'
उन्होंने दूसरे विपक्षी दलों को भी 'अंधा विपक्ष' कहते हुए आलोचना की. सबरीमाला मंदिर और लव जिहाद को लेकर उन्होंने कहा था कि वे पार्टी में भरोसा करते हैं, इसलिए बीजेपी में शामिल हो रहे हैं. उन्होंने कहा 'बीजेपी का मत सही है.'

खास बात है कि 140 सदस्यीय केरल सभा में बीजेपी के पास केवल एक विधायक है. हालांकि, उन्होंने यह भी साफ किया है कि वे गवर्नर बनने में दिलचस्पी नहीं रखते हैं. मेट्रो मैन ने राज्यपाल पद को लेकर कहा कि उसमें कोई ताकत नहीं है. वह एक सांवैधानिक पद है और इसपर रहकर राज्य के लिए बड़ा योगदान नहीं दे पाएंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज