गृह मंत्रालय का राज्यों को निर्देश, सुनिश्चित करें अस्पतालों में आग लगने की घटनाएं न हों

गृह मंत्रालय ने अस्पतालों आग लगने की घटनाओं को रोकने का आदेश दिया है. (फाइल फोटो)

गृह मंत्रालय ने अस्पतालों आग लगने की घटनाओं को रोकने का आदेश दिया है. (फाइल फोटो)

मंत्रालय (MHA) ने कहा है कि इसके लिए राज्य पहले से प्लानिंग तैयार करें और ये सुनिश्चित करें कि आग लगने की घटनाएं न हों. सरकार ने विशेष रूप से ये निर्देश प्राइवेट और सरकारी कोविड अस्पतालों के संबंध में दिए हैं.

  • Share this:

नई दिल्ली. केंद्रीय गृह मंत्रालय (MHA) ने राज्य सरकारों और केंद्रशासित प्रदेशों को निर्देश दिया है कि अस्पतालों में आग की घटनाएं (Fire Incidents) रोकने के प्रयास किए जाएं. मंत्रालय ने कहा है कि इसके लिए राज्य पहले से प्लानिंग तैयार करें और ये सुनिश्चित करें कि आग लगने की घटनाएं न हों. सरकार ने विशेष रूप से ये निर्देश प्राइवेट और सरकारी कोविड अस्पतालों के संबंध में दिए हैं.

केंद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला ने राज्यों के मुख्य सचिवों से बातचीत के दौरान ये निर्देश दिए हैं. उन्होंने कहा कि हाल में अस्पतालों में आग की घटनाओं और बढ़ती गर्मी के संदर्भ में पहले से प्लान तैयार रखना होगा. इस वक्त अस्पतालों में इलेक्ट्रिक वायरिंग और अन्य तकनीकी सेक्शन पर लोड बहुत ज्यादा है. ऐसे में शॉर्ट सर्किट जैसी घटनाएं सामने आ सकती हैं.

Youtube Video

महाराष्ट्र में आग लगने की हुई हैं कई घटनाएं
गौरतलब है कि गर्मी बढ़ने के साथ आग की घटनाओं में तेजी आने की आशंका है. बीते दिनों में महाराष्ट्र के कोरोना अस्पतालों में कई बार आग लगने की घटनाएं हुई हैं, जिसमें मरीजों को जान गंवानी पड़ी. देश की आर्थिक राजधानी मुंबई से सटे विरार इलाके में विजय वल्लभ कोविड अस्पताल में आग लगने से 13 लोगों की मौत हो गई थी. विरार वेस्ट स्थित विजय वल्लभ हॉस्पिटल में 15 पेशंट्स ICU में थे, जिसमें से 13 की मौत हो गई थी. बताया गया कि एसी में शॉर्ट सर्किट के चलते आग लगी. राज्य में आग लगने की अन्य दर्दनाक घटनाएं भी हुई हैं.

नागपुर शहर में एक कोविड अस्पताल में भी आग लगने की घटना हुई थी. वाडी इलाके में WELL TREAT COVID HOSPITAL में आग लगी थी. आईसीयू के एसी में शॉर्ट सर्किट से आग लगी, बाद में आग आईसीयू में फैल गई. आईसीयू में 10 कोविड मरीज भर्ती थे. 6 मरीज खुद बाहर निकल गये, 4 मरीजों की मौत हो गई थी.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज