ऑक्‍सीजन की बेरोकटोक आवाजाही के लिए MHA का राज्‍यों को पत्र, दिए खास निर्देश

ऑक्‍सीजन की सप्‍लाई को लेकर गृह मंत्रालय ने राज्‍यों को पत्र लिखा है. (प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर)

ऑक्‍सीजन की सप्‍लाई को लेकर गृह मंत्रालय ने राज्‍यों को पत्र लिखा है. (प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर)

केंद्र सरकार कुछ आवश्यक क्षेत्रों को छोड़कर, औद्योगिक उद्देश्यों के लिए ऑक्सीजन की आपूर्ति पर प्रतिबंध लगा चुकी है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 23, 2021, 10:12 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. देश में कोरोना वायरस महामारी के मामले बढ़ते ही जा रहे हैं. हर दिन की स्थिति बिगड़ती जा रही है. अस्‍पतालों में ऑक्‍सीजन और बेड की भारी किल्‍लत है. इस बीच, गृह मंत्रालय ने सभी राज्‍यों और केंद्रशासित प्रदेशों को चिट्ठी लिखकर ऑक्‍सीजन सप्‍लाई के वाहनों की सुरक्षा सुनिश्चित करने और उनके आवाजाही के लिए विशेष कॉरिडोर के प्रावधान के लिए कहा है. बता दें कि केंद्र सरकार कुछ आवश्यक क्षेत्रों को छोड़कर, औद्योगिक उद्देश्यों के लिए ऑक्सीजन की आपूर्ति पर प्रतिबंध लगा चुकी है.

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने शुक्रवार को कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर

स्थिति की समीक्षा की और चिकित्सा उद्देश्यों के लिए ऑक्सीजन की आपूर्ति बढ़ाने के विभिन्न उपायों के निर्देश दिए हैं.

ऑक्सीजन संयंत्रों की सूची तैयार की जाए, बंद इकाइयां फिर चालू की जाएं: MHA
केंद्र ने शुक्रवार को सभी राज्यों को निर्देश दिया कि वे अपने-अपने अधिकार क्षेत्र में ऑक्सीजन उत्पादन करने वाले संयंत्रों की सूची तैयार करें और बंद हो चुकी इकाइयों को आपूर्ति बढ़ाने के लिए फिर से चालू करें ताकि कोविड-19 संक्रमण के तेजी से बढ़ते मामलों के कारण बढ़ी मांग को पूरा किया जा सके.

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने राज्यों को लिखे पत्र में कहा कि ऑक्सीजन ले जाने वाले वाहनों को रोके जाने की घटनाएं अब भी सामने आ रही हैं. उसने राज्यों को निर्देश दिया कि स्वास्थ्य संबंधी आवश्यक वस्तुओं की निर्बाध आपूर्ति और आवागमन सुनिश्चित किया जाए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज