भारतीय नौसेना को लड़ाकू विमानों की आपूर्ति करना चाहती है 'मिग'

भाषा
Updated: September 17, 2017, 8:17 PM IST
भारतीय नौसेना को लड़ाकू विमानों की आपूर्ति करना चाहती है 'मिग'
MiG भारतीय नौसेना को लड़ाकू विमानों की आपूर्ति करना चाहती है 'मिग' (Getty Images)
भाषा
Updated: September 17, 2017, 8:17 PM IST
लड़ाकू विमानों की आपूर्ति के लिए भारतीय नौसेना की तरफ से अरबों डॉलर के करार का इंतज़ार कर रही रूसी सैन्य उड्डयन कंपनी 'मिग' ने रविवार को कहा कि वो भारतीय कंपनियों के साथ मिग-29 के विमान बनाने और प्रौद्योगिकी अंतरण के खिलाफ नहीं है.

मिग के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) इया तारासेंको ने कहा कि उनकी कंपनी जल्द ही भारत सरकार को एक विस्तृत प्रस्ताव भेजेगी जिसमें नौसेना के लिए विमान के संयुक्त विकास की ख़ातिर अपनी तैयारियों के बारे में बताएगी.

तारासेंको ने बताया, 'हम दीर्घकालिक और संभावनाओं के लिहाज़ से सहयोग के लिए विभिन्न विकल्पों पर विचार कर रहे हैं और इसमें 'मेक इन इंडिया' कार्यक्रम की रूपरेखा भी शामिल है.' जनवरी में भारतीय नौसेना ने अपने पोतों के लिए 57 बहुद्देशीय लड़ाकू विमानों की खरीद की प्रक्रिया शुरू की थी और इसके लिए अग्रणी सैन्य विमान निर्माताओं के लिए सूचना का अनुरोध जारी किया था.

अभी विमानवाहक पोतों के लिए छह विमान अनुकूल हैं, जिनमें राफेल (दशॉ, फ्रांस), एफ-18 सुपर हॉर्नेट (बोइंग, अमेरिका), मिग-29के (रूस), एफ-35बी और एफ-35सी (लॉकहीड मार्टिन, अमेरिका), ग्राइपेन (साब, स्वीडन) शामिल हैं. एफ-18, राफेल और मिग-29के दो इंजन वाले जेट हैं जबकि अन्य तीन एक ही इंजन वाले लड़ाकू विमान हैं.
First published: September 17, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर