श्रीनगर के हेलिकॉप्टर हादसे में अफसरों के खिलाफ कार्रवाई पर मिलिट्री कोर्ट ने लगाई रोक

श्रीनगर के हेलिकॉप्टर हादसे में अफसरों के खिलाफ कार्रवाई पर मिलिट्री कोर्ट ने लगाई रोक
27 फरवरी 2019 को जम्‍मू-कश्‍मीर के बडगाम में दुर्घटनाग्रस्‍त हुआ वायुसेना का हेलीकॉप्‍टर भारतीय मिसाइल से ही टकरा गया था.

बीते साल बालाकोट एयर स्ट्राइक (Balakot Airstrike) के ठीक एक दिन बाद बडगाम में यह हादसा हुआ था. इसमें दो अधिकारियों के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की जानी थी. इस हादसे में 6 वायुसेना के जवानों की शहादत हुई थी. इनमें हेलिकॉप्टर के पायलट भी शामिल थे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 15, 2020, 12:33 AM IST
  • Share this:
श्रीनगर. मिलिट्री कोर्ट (Military Court) ने श्रीनगर में हुए हेलिकॉप्टर एमआई-17 (Mi-17) हादसे में सेना के अधिकारियों (Officers) के खिलाफ कार्रवाई पर रोक लगा दी है. बीते साल बालाकोट एयर स्ट्राइक (Balakot Airstrike) के ठीक एक दिन बाद बडगाम में यह हादसा हुआ था. इसमें दो अधिकारियों के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की जानी थी. इस हादसे में 6 वायुसेना के जवानों की शहादत हुई थी. इनमें हेलिकॉप्टर के पायलट भी शामिल थे.

वायुसेना चीफ ने स्वीकार की थी गलती
इस हादसे को लेकर भारत के वायुसेना चीफ आरकेएस भदौरिया ने स्वीकार किया था कि ये दुर्घटना हमारी गलती की वजह से हुई है. भदौरिया ने कहा था कि इस मामले में दो अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी. इस हेलीकॉप्‍टर को स्‍क्‍वाड्रन लीडर सिद्धार्थ वशिष्‍ठ उड़ा रहे थे. उनके साथ स्‍क्‍वाड्रन लीडर निनाद, कुमार पांडे, सार्जेंट विक्रांत सहरावत, कॉरपोरल दीपक पांडे और पंकज कुमार भी थे.

हेलीकॉप्‍टर ने 27 फरवरी 2019 की सुबह 10.10 बजे श्रीनगर हवाईअड्डे से उड़ान भरी थी. इससे करीब 40 मिनट पहले पाकिस्‍तानी वायुसेना के जेट ने भारतीय वायु सीमा का उल्‍लंघन कर बडगाम में घुसपैठ करने की कोशिश की थी. भारतीय वायुसेना तत्‍काल कार्रवाई करते हुए उसे खदेड़ दिया था.
अफसरों ने कोर्ट ऑफ एनक्वायरी को किया चैलेंज


अब इस घटना के जिम्मेदार ठहराए गए दोनों अधिकारियों, ग्रुप कैप्टन एसआर चौधरी और विंग कमांडर श्याम नैथानी, ने कोर्ट ऑफ एक्वायरी को चैलेंज किया था. मिलिट्री कोर्ट ने अधिकारियों का पक्ष का सुनने के बाद अगली सुनवाई तक किसी भी तरह की कार्रवाई पर रोक लगा दी है. मामले की अगली सुनवाई 30 सितंबर को होगी. गौरतलब है कि ग्रुप कैप्टन एसआर चौधरी ही हादसे के वक्त श्रीनगर एयरबेस के चीफ ऑपरेशन्स ऑफिसर थे. वहीं विंग कमांडर नैथानी सीनियर एयर ट्रैफिक कंट्रोलर के पद पर तैनात थे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading