नोटबंदी और सोनम गुप्‍ता की बेवफाई से ऐसे हो रही लाखों की कमाई

कुछ रंगकर्मियों, गायकों और मिमिक्री करने वालों ने नोटबंदी व सोनम गुप्ता की बेवफाई में हास्‍य खोज लिया है। उसके जरिए खुद लाखों की कमाई कर रहे हैं और लोगों का मनोरंजन।

ओम प्रकाश | News18India.com
Updated: November 28, 2016, 6:09 PM IST
नोटबंदी और सोनम गुप्‍ता की बेवफाई से ऐसे हो रही लाखों की कमाई
कुछ रंगकर्मियों, गायकों और मिमिक्री करने वालों ने नोटबंदी व सोनम गुप्ता की बेवफाई में हास्‍य खोज लिया है। उसके जरिए खुद लाखों की कमाई कर रहे हैं और लोगों का मनोरंजन।
ओम प्रकाश | News18India.com
Updated: November 28, 2016, 6:09 PM IST
नई दिल्‍ली। नोटबंदी को लेकर जहां देश के काफी लोग परेशान हैं, पैसे की कमी से आत्‍महत्‍या करने पर मजबूर हैं वहीं कुछ रंगकर्मियों, गायकों और मिमिक्री करने वालों ने इसमें से हास्‍य खोज लिया है। उसके जरिए खुद लाखों की कमाई कर रहे हैं और लोगों का मनोरंजन। नोटबंदी में ही उपजी बेवफाई की कहानी ‘सोनम गुप्‍ता बेवफा है’ पर भी अपनी कलाकारी से लाखों रुपये बटोर रहे हैं। यू-ट्यूब पर इस पर ढेरों वीडियो मौजूद हैं।

सनी देओल और करिश्‍मा कपूर की फिल्‍म जीत के एक डायलॉग पर सोनम गुप्‍ता से संबंधित डायलॉग डब करके उसे हास्‍य के रंग में रंग दिया गया है। इसी प्रकार सनी देओल की ही फिल्‍म दामिनी की कोर्ट बहस को सोनम गुप्‍ता कोर्ट हियरिंग के नाम से डब करे यू-ट्यूब पर अपलोड कर दिया गया है। यही नहीं श्‍याम रंगीला नामक एक मिमिक्री कलाकार ने तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आवाज में राजनीतिक बेवफाई पर तंज कसते हुए कहा है कि सिर्फ सोनम गुप्‍ता के बेवफा होने पर इतना कोहराम क्‍यों मचा है।

1000, 500 के नोट बैन होने को लेकर भी यू-ट्यूब पर ढेरों गाने और कॉमेडी मौजूद हैं। भोजपुरी के मशहूर गानों की तर्ज पर इसके पक्ष और महिलाओं के दर्द पर गाने बन गए हैं। बंद हो गईल 500, 1000 के नोट, विदाई होता 500, 1000 के नोट के... एवं ब्‍लैक मनी शीर्षक से ढेरों गाने हैं। ‘मोदी जी मैं तो बर्बाद हो गई’ शीर्षक से बनाई गई एक कॉमेडी को तो 11,645,309 लोगों ने देखा है। एक्सपर्ट के मुताबिक लगभग 1000 व्यू पर 100 रुपये की कमाई होती है।

note ban



कई फिल्‍मों में काम कर चुके एनएसडी से पासआउट रंगकर्मी रामजी बाली कहते हैं नोटबंदी की घटना बहुत बड़ी है। इससे पूरा समाज प्रभावित हुआ है। इसलिए कलाकारों ने भी अपने-अपने अंदाज में इसे लेकर रिएक्‍ट किया है। बड़ी घटनाओं पर अपनी बात रखना अच्‍छे समाज की निशानी है। इससे लोगों का मनोरंजन भी हो रहा है और कलाकारों की कमाई भी।

पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर