Assembly Banner 2021

असम BJP के 'चाणक्य' ने कामाख्या दर्शन करा भरा पर्चा, उमड़ा जैनसैलाब

हेमंत बिस्वा सरमा के नामांकन के दौरान असम के सीएम और केंद्रीय कृषि मंत्री भी मौजूद थे. (@himantabiswa Twitter)

हेमंत बिस्वा सरमा के नामांकन के दौरान असम के सीएम और केंद्रीय कृषि मंत्री भी मौजूद थे. (@himantabiswa Twitter)

हेमंत बिस्व सरमा (Himanta Biswa Sarma) ने शुक्रवार को मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल तथा पार्टी के वरिष्ठ नेताओं की मौजूदगी में नामांकन पत्र दाखिल किया. वे नॉर्थ ईस्ट डेमोक्रेटिक अलायंस (एनईडीए) के समन्वयक तथा असम सरकार में मंत्री भी हैं. वे जालुकबाड़ी सीट से विधानसभा चुनाव लड़ रहे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 19, 2021, 7:41 PM IST
  • Share this:
गुवाहाटी. नॉर्थ ईस्ट डेमोक्रेटिक अलायंस (एनईडीए) के समन्वयक तथा असम सरकार में मंत्री हेमंत बिस्व सरमा (Himanta Biswa Sarma) ने शुक्रवार को नामांकन पत्र दाखिल किया. वह जालुकबाड़ी सीट से विधान सभा चुनाव लड़ रहे हैं. इस विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र से हेमंत बिस्वा सरमा ने लगातार चार बार, कांग्रेस के साथ और एक बार भारतीय जनता पार्टी के साथ जालुकबाड़ी निर्वाचन क्षेत्र जीता है. हेमंत को उनकी सांगठनिक कुशलता और नॉर्थ-ईस्ट की राजनीति में पकड़ के लिए बीजेपी का 'चाणक्य' भी कहा जाता है.

नामांकन पत्र भरने जा रहे सरमा के साथ समर्थकों का हुजूम था. उन्होंने सेनाराम फील्ड से कामरूप के मेट्रोपोलिटन उपायुक्त कार्यालय तक बड़ी रैली निकाली. उन्होंने मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल तथा पार्टी के वरिष्ठ नेताओं की मौजूदगी में नामांकन पत्र दाखिल किया.

ये भी पढ़ें असम चुनाव 2021: जलुकबरी से फिर जीतेंगे हेमंत बिस्वा सरमा या होगा कुछ नया ?



रोड-शो के दौरान सरमा के साथ उनकी पत्नी रिनिकी भुयान सरमा और बेटा नादिल भी था. इससे पहले, सुबह सरमा और उनकी पत्नी ने कामाख्या मंदिर में पूजा अर्चना की.
ये भी पढ़ें  असम चुनाव 2021: राजधानी दिसपुर में खिलेगा कमल या आएगी कांग्रेस ?

हेमंत बिस्वा सरमा ने कहा है कि अगर उनकी पार्टी सत्ता में आती है तो शादी को लेकर एक विधेयक पेश किया जाएगा. स्वास्थ्य मंत्री हेमंत बिस्व सरमा ने कहा कि हमने घोषणा पत्र में वादा किया है कि हम शादी में शामिल होने के दौरान गोपनीयता को प्रस्तुत करने का एक व्यापक विधेयक लाएंगे.

बता दें, असम की कुल 126 विधानसभा सीटों पर 27 मार्च से तीन चरणों में वोट डाले जाएंगे. वोटों की गिनती दो मई को होगी. पहले चरण के तहत राज्य की 47 विधानसभा सीटों पर 27 मार्च को, दूसरे चरण के तहत 39 विधानसभा सीटों पर एक अप्रैल और तीसरे व अंतिम चरण के तहत 40 विधानसभा सीटों पर छह अप्रैल को मतदान संपन्न होगा. नामांकन की आखिरी तारीख नौ मार्च है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज