Home /News /nation /

केंद्रीय मंत्री ने पाकिस्तानी आतंक और जिहादी गतिविधियों को बताया बाहरी सुरक्षा की सबसे बड़ी चुनौती

केंद्रीय मंत्री ने पाकिस्तानी आतंक और जिहादी गतिविधियों को बताया बाहरी सुरक्षा की सबसे बड़ी चुनौती

पाकिस्तान खालिस्तान आतंकियों के जरिये भारत में हमले की साजिश रच रहा है.

पाकिस्तान खालिस्तान आतंकियों के जरिये भारत में हमले की साजिश रच रहा है.

केंद्रीय गृह राज्य मंत्री (Minister of State for Home Affairs) ने पाकिस्तान प्रायोजित आतंकवाद (Pakistan Funded Terror) को भारत की बाहरी सुरक्षा के लिए सबसे बड़ा खतरा बताया है.

    नई दिल्ली. केंद्रीय मंत्री जी किशन रेड्डी (G. Kishan Reddy) ने मंगलवार को कहा कि पाकिस्तान (Pakistan) प्रायोजित आतंकवाद (Terrorism) एवं जिहादी गतिविधियां (Jihadi Activities) देश के लिए सबसे बड़ी बाहरी सुरक्षा चुनौतियां हैं.

    रेड्डी ने राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) द्वारा आयोजित आतंकवाद निरोधक दस्तों (ATS) के प्रमुखों के सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि आतंकवाद देश के लिए एक बड़ी चुनौती है, किसी भी सभ्य समाज के लिए एक अभिशाप है और आधुनिक विकास के लिए सबसे बड़ी बाधा है.

    ऐसी चुनौतियों से निपटने में सक्षम है देश
    उन्होंने कहा कि पाकिस्तान (Pakistan) प्रायोजित सीमा-पार से जारी आतंकवाद (Terrorism) और जिहादी आतंकवाद भारत के लिए सबसे बड़ी सुरक्षा चुनौतियां हैं, लेकिन देश हमेशा ऐसी चुनौतियों से निपटने में सक्षम रहा है.

    केंद्रीय गृह राज्यमंत्री (Minister of State for Home Affairs) ने कहा कि दशकों से भारत ने आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई लड़ी है और मोदी सरकार आतंकवाद का पूरी तरह सफाया करने के लिए कृत संकल्प है.

    आतंकवाद से लड़ने में अंतरराष्ट्रीय समुदाय का सहयोग हमारा कर्तव्य
    पंजाब (Punjab), पूर्वोत्तर, कश्मीर और वाम चरमपंथ से प्रभावित देश के कुछ हिस्सों में शांति लाने में सुरक्षाबलों की सफलता की प्रशंसा करते हुए उन्होंने कहा कि दुनिया के इस सबसे बड़े लोकतंत्र (Democracy) का आतंकवाद की बुराई से लड़ने में अंतरराष्ट्रीय समुदाय का सहयोग करना कर्तव्य है.

    उन्होंने आतंकवाद को परास्त करने के लिए जरूरी बुनियादी ढांचे और मानव संसाधन (Human Resource) के साथ मजबूत कानूनी ढांचे का भी आह्वान किया और आतंकवाद निरोधक कानूनों में एवं NIA कानून में जरूरी संशोधनों के साथ कानूनी ढांचा को मजबूत बनाये जाने का उल्लेख किया.

    भारत में होने के बावजूद संप्रभु राज्य की तरह बर्ताव कर रहा था कश्मीर
    रेड्डी ने कहा कि कश्मीर भारत में रहने के बावजूद विध्वंसकारी एवं अलगाववादी गतिविधियों के चलते अलग संप्रभु राज्य की तरह बर्ताव कर रहा था. सरकार ने अनुच्छेद-370 (Article-370) खत्म कर जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) का भारत में विलय किया और सीमापार आतंकवाद को कुचलने में सफलता पायी.

    मंत्री ने कहा कि कट्टरता, अलगावादी आंदोलन, चरमपंथ, सांप्रदायिकता और माओवादी हिंसा देश के समक्ष बड़ी अंदरूनी सुरक्षा चुनौतियां हैं.

    यह भी पढ़ें: जनरल बिपिन रावत ने कहा, अगला युद्ध स्‍वदेशी हथियारों से ही जीतेगा भारत

    Tags: ATS, Home ministry, NIA, Pakistan, Terrorism, Terrorist

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर