India China Face off: रक्षा मंत्रालय ने माना- चीन ने भारतीय इलाकों में की घुसपैठ

India China Face off: रक्षा मंत्रालय ने माना- चीन ने भारतीय इलाकों में की घुसपैठ
रक्षा मंत्रालय ने वेबसाइट पर एक दस्तावेज जारी किया है.

India China Face off: रक्षा मंत्रालय (Defense Ministry) ने आधिकारिक तौर पर माना है कि चीन ने भारतीय इलाकों में घुसपैठ की है. रक्षा मंत्रालय द्वारा जारी किये गये दस्तावेज में यह बात सामने आई है. इसी दस्तावेज के हवाले से कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने भी केंद्र सरकार पर निशाना साधा है. गौरतलब है कि भारत और चीन के बीच उस वक्त विवाद ज्यादा बढ़ गया था जब गलवान घाटी में दोनों पक्ष हिंसक हो गए थे.इस कार्रवाई भारतीय सेना के कर्नल समेत 20 सैनिक शहीद हो गए थे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 6, 2020, 12:36 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. भारत और चीन (India China) के बीच लद्दाख में जारी विवाद (Ladakh Border Dispute) पर रक्षा मंत्रालय (Defense Ministry) ने आधिकारिक तौर पर माना है कि चीन ने भारतीय इलाकों में घुसपैठ की है.  बता दें इस साल मई में चीन ने पूर्वी लद्दाख सीमा के भीतर घुसपैठ की और हालात उस वक्त ज्यादा बिगड़ गए जब दोनों देशों की सेनाओं के बीच हिंसक झड़प हो गई. जिसमें भारतीय सेना के कर्नल समेत 20 सैनिक शहीद हुए थे और वहीं चीनी सेना के भी कई जवान हताहत हुए. इस हिंसक झड़प के बाद दोनों देशों के बीच वार्ता जारी है.

रक्षा मंत्रालय ने अपनी वेबसाइट पर जारी किए एक दस्तावेज में कहा कि '5 मई से गलवान में चीन की गतिविधियां बढ़ी थीं. मंत्रालय की ओर से कहा गया है कि चीनी ने PP-15 कुगरांग नाला, गोगरा यानी PP 17 A और पैंगोंग लेक के नॉर्दर्न बैंक पर 17-18 मई को घुसपैठ की थी.'

मंत्रालय के दस्तावेज में कहा गया है कि 'ये विवाद लंबा चल सकता है. भारत चीन के बीच विवाद के खत्म करने के लिए दोनो देशो के कोर कमांडर के बीच 5 बार बातचीत हो चुकी है. एलएसी पर तनाव तो कम है लेकिन हालात में किसी तरह का बदलाव नहीं है.'





इससे पहले खुद रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने अपने लेह दौरे के दौरान सैनिकों को संबोधित करते हुए भी इस बात का इशारा दिया था कि हल निकालने के लिए बातचीत जारी है लेकिन इस बात की गारंटी नही दे सकते कि कब तक ये विवाद सुलझेगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज