लाइव टीवी

कुपोषण के संकट से लड़ने के लिए महिला एवं बाल विकास मंत्रालय ने लॉन्च किया 'पोषण एंथम'

News18Hindi
Updated: March 9, 2020, 9:37 PM IST
कुपोषण के संकट से लड़ने के लिए महिला एवं बाल विकास मंत्रालय ने लॉन्च किया 'पोषण एंथम'
महिला एवं बाल विकास मंत्रालय ने पोषण एंथम लॉन्च किया है (पोषण एंथम से स्क्रीनग्रैब)

इस पोषण गान (Poshan Anthem) को मशहूर गायक और कंपोजर शंकर महादेवन (Shankar Mahadevan) ने अपनी आवाज़ दी है और इसे लिखा है गीतकार प्रसून जोशी (Prasoon Joshi) ने.

  • Share this:
नई दिल्ली. कुपोषण (Malnutrition) के खिलाफ लड़ाई के लिए भारत सरकार (Indian Government) ने मुहिम छेड़ रखी है. इसके तहत एक कदम के तौर पर महिला एवं बाल विकास मंत्रालय (Ministry of Women and Child Development) की ओर से 'पोषण गान' (Poshan Anthem) लॉन्च किया गया. इसके दो वर्जन लॉन्च किए गए हैं. पूरा पोषण गान करीब 5 मिनट का है जबकि इसका छोटा वर्जन 2 मिनट के आसपास का है.

इस पोषण गान (Poshan Anthem) को मशहूर गायक और कंपोजर शंकर महादेवन (Shankar Mahadevan) ने अपनी आवाज़ दी है और इसे लिखा है गीतकार प्रसून जोशी ने.

पोषण एंथम का लक्ष्य अधिक से अधिक लोगों को कुपोषण के संकट से लड़ने को प्रेरित करना
पोषण गान की पहली झलक 4 दिसंबर को ही एक कार्यक्रम में मिली थी, जिसमें कुपोषण के खिलाफ भारत के अभियान के तहत उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू (M Venkaiah Naidu) ने इस पोषण एंथम की लॉन्चिंग की थी.



उस समय उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने कहा था कि पोषण एंथम का लक्ष्य लोगों को कुपोषण के संकट (scourge of malnutrition) के खिलाफ चलाए जा रहे आंदोलन से जुड़ने के लिए प्रेरित करना है.



पोषण एंथम (Poshan Anthem) के बोल हैं, 'देश उम्मीद से है, करो पोषणम्'.



उपराष्ट्रपति ने अधिकतम लोगों से की थी बच्चों के बचपन को अच्छे से अच्छा बनाने की गुजारिश
उपराष्ट्रपति (Vice President) ने अपने विचार रखते हुए यह भी कहा था, "अगर संभव हो तो इस एंथम को कई सारी क्षेत्रीय भाषाओं में भी गाया जा सकता है ताकि यह लोगों का गान बन सके. सभी विधायकों, प्रशासनिक अधिकारियों (Administrators), सिविल सोसाइटी कार्यकर्ताओं और नागरिकों की पहली प्राथमिकता होनी चाहिए कि वे यह सुनिश्चित करें कि देश के सभी बच्चों को संभव सबसे अच्छा बचपन मिल सके."

इस अवसर पर भारत के उपराष्ट्रपति ने दोनों ही कलाकारों को बधाई दी थी और आशा जताई थी कि पोषण का संदेश देने वाला यह संदेश (Message) देश के कोने-कोने में पहुंचेगा.

यह भी पढ़ें: कश्मीर के औचक दौरे पर पहुंचे एस. जयशंकर, ईरान में फंसे लोगों के परिजन से मिले

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 9, 2020, 9:09 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading