Home /News /nation /

'एक बार फिर से एक शहीद मारा गया', मिराज 2000 प्‍लेन क्रैश में मारे गए पायलट पर लिखी कविता वायरल

'एक बार फिर से एक शहीद मारा गया', मिराज 2000 प्‍लेन क्रैश में मारे गए पायलट पर लिखी कविता वायरल

स्‍क्‍वाड्रन लीडर समीर अब्रॉल

स्‍क्‍वाड्रन लीडर समीर अब्रॉल

यह कविता समीर के भाई सुशांत अब्रॉल ने सोशल मीडिया पर लिखी है. उन्‍होंने बताया कि जब वह अपने भाई के शव को लेकर लौट रहे थे तब उन्‍होंने यह कविता लिखी थी.

    बेंगलुरु में मिराज 2000 एयरक्राफ्ट के क्रैश के दौरान जान गंवाने वाले स्‍क्‍वाड्रन लीडर समीर अब्रॉल पर लिखी गई एक कविता सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रही है. यह कविता समीर के भाई सुशांत अब्रॉल ने सोशल मीडिया पर लिखी है. उन्‍होंने बताया कि जब वह अपने भाई के शव को लेकर लौट रहे थे तब उन्‍होंने यह कविता लिखी थी. बता दें कि एक फरवरी को बेंगलुरु में टेस्‍ट फ्लाइट के दौरान मिराज 2000 लड़ाकू विमान क्रैश हो गया था. इसके चलते स्‍क्‍वाड्रन लीडर समीर अब्रॉल और उनके साथी स्‍क्‍वाड्रन लीडर सिद्धार्थ नेगी की मौत हो गई थी.

    यह कविता समीर की पत्‍नी गरिमा के नाम से काफी शेयर की गई. इसमें बताया गया है कि किस तरह से एक जवान आसमान से जमीन पर गिर गया और प्‍लेन का केवल ब्‍लैक बॉक्‍स मिला.

    सुशांत ने बताया कि उनकी पोस्‍ट सिस्‍टम को लेकर थी और इसे किसी एक व्‍यक्ति पर नहीं लेना चाहिए. उन्‍होंने बताया कि जिस फ्लाइट से वह आ रहे थे उसमें आठ अफसर भी थे. उनकी आंखों में आंसू थे. उन्‍होंने कहा, 'मुझे लगा कि यह सब उनमें से किसी एक के साथ हो सकता था. यह किसी परिवार का नहीं बल्कि एयर फॉर्स का नुकसान है. जो मैंने लिखा वह भावनाओं के जरिए आया.'

    उन्‍होंने बताया कि समीर ने टेस्‍ट पायलट बनने का फैसला किया जो कि सामान्‍य लड़ाकू पायलट से पांच गुना ज्‍यादा जोखिमभरा काम है.


    सुशांत ने बताया कि उनका परिवार क्रैश की जांच के नतीजे का इंतजार कर रहा है. रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमन ने मंगलवार को अब्रॉल के परिवार से मुलाकात की. अब्रॉल परिवार ने मंगलवार को एक बयान जारी किया और कहा कि उन्‍हें भारतीय वायुसेना में पूरा भरोसा है.

    कविता में लिखा है-


    'और जैसे ही वह आसमां से जमीन पर गिरा, उसकी हड्डियां टूट चुकी थीं,
    सब बिखर गया बस एक ब्‍लैक बॉक्‍स मिला.
    वह सुरक्षित निकला लेकिन पैराशूट ने आग पकड़ ली,
    इसने उसकी और परिवार की सारी इच्‍छाओं को तोड़ दिया.
    इस तरह की टूटती हुई सांसें उसने कभी नहीं ली जिस तरह की वह आखिरी बार ले रहा था,
    जबकि नौकरशाही ने अपनी भ्रष्‍ट चीज और वाइन का लुत्‍फ उठाया.
    हम हमारे योद्धाओं को पुरानी पड़ चुकी मशीनें लड़ने के लिए देते हैं,
    फिर भी वे अपनी ताकत और जज्‍बे से नतीजे देते हैं.
    जैसे ही वह आसमां से जमीन पर गिरा,
    एक बार फिर से एक शहीद मारा गया.
    ए‍क टेस्‍ट पायलट का काम कितना अक्षम्‍य है
    पर किसी को तो रास्‍ता दिखाने के लिए यह जोखिम लेना होगा.

    मेरे भाई पर गर्व है
    लड़ाई हमेशा जारी है भाई!!
    जय हिंद'

    एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स 

    Tags: Fighter jet, India Defence, Indian Airforce, Nirmala sitharaman

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर