अपना शहर चुनें

States

Mission Paani Waterthon: अक्षय कुमार ने बताया कैसे पानी ने बचाई थी उनकी जान, बोले- हाइड्रोथैरेपी से रहते हैं फिट

मिशन पानी कार्यक्रम में पहुंचे अक्षय कुमार
मिशन पानी कार्यक्रम में पहुंचे अक्षय कुमार

News18 Mission Paani: पानी को बचाने के प्रति लोगों को जागरूक करने के लिए न्यूज़-18 हार्पिक इंडिया (Harpic India) के साथ मिलकर कैंपेन चला रहा है. इस कैंपेन का आगाज मंगलवार को हुआ.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 26, 2021, 4:08 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. फिल्म अभिनेता अक्षय कुमार (Bollywood actor Akshay Kumar) ने न्यूज़-18 के खास कार्यक्रम मिशन पानी (Mission Paani) में कहा कि पानी के चलते ही उनकी जान बची थी. अक्षय ने बताया कि स्लिप डिस्क के चलते उनकी मुश्किलें काफी ज़्यादा बढ़ गई थीं. ऐसे में उन्होंने हाइड्रोथैरेपी ली थी. बता दें कि न्यूज़18 इंडिया हार्पिक के साथ मिलकर इन दिनों मिशन पानी नाम का एक कैंपेन चला रहा है. इसका मकसद है लोगों को पानी बचाने के लिए प्रोत्साहित करना. अक्षय कुमार इस कैंपेन के एम्बेसेडर हैं. इस कैंपन का थीम है पानी की कहानी भारत की ज़ुबानी. लोग इस कार्यक्रम में देश भर में पानी की कमी को लेकर चर्चा कर रहे हैं.

अक्षय कुमार ने इस कार्यक्रम में पानी बचाने और हाइड्रोथैरेपी पर बात की. हाइड्रोथैरेपी पानी के जरिये की जाने वाली एक थेरेपी है, जिसका इस्तेमाल आमतौर पर इंजरी से ठीक होने के लिए किया जाता है. उन्होंने बताया कि 1990 के दौर में कैसे उन्हें स्लिप डिस्क के चलते परेशानी हुई थी. इसके बाद हाइड्रोथैरेपी के जरिए ही वो पूरी तरह से ठीक हुए थे.






अक्षय कुमार ने बताया कि जब किसी भी उपचार ने काम नहीं किया, तो उनके डॉक्टर ने उन्हें हाइड्रोथेरेपी करने का सुझाव दिया. इस प्रक्रिया के बारे में बताते हुए अभिनेता ने कहा, 'ये प्रक्रिया पानी में काम करने के लिए मजबूर करती है. चाहे वह चल रहा हो, पैदल चल रहा हो या किसी भी प्रकार का व्यायाम हो, स्वीमिंग में पानी में काम करना शामिल है. व्यायाम और पानी की उछाल से किसी के शरीर पर वजन बढ़ने का तनाव कम होता है.'

ये भी पढ़ें:- Republic Day: राजपथ पर जामनगर की 'हलारी पगड़ी' पहन कर पहुंचे पीएम मोदी

मिशन पानी में शामिल हुए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने कहा, 'भूजल संरक्षण हमारा दायित्व है. इसके साथ ही स्वच्छ पेयजल की आपूर्ति सुनिश्चित कराना भी हमारी जिम्मेदारी है.' स्वास्थ्य मंत्री ने इसके साथ ही सरकार की 'जल प्रोद्योगिकी पहल' के बारे में भी बात की और कहा कि इसका मकसद तकनीक का उपयोग करते हुए पूरे देश में लोगों को पीने का पानी उपलब्ध कराना है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज