Mission Paani: चेन्‍नई का ये अपार्टमेंट एक घंटे में बचाता है 25,000 लीटर पानी

साबरी अपार्टमेंट में रहने वाले लगभग 60 परिवार अपनी बालकनी के माध्यम से एक घंटा में ही 25,000 लीटर पानी इकट्ठा कर लेते हैं.

News18Hindi
Updated: July 9, 2019, 11:23 PM IST
Mission Paani: चेन्‍नई का ये अपार्टमेंट एक घंटे में बचाता है 25,000 लीटर पानी
चेन्नई के साबरी अपार्टमेंट में रहने वाले लगभग 60 परिवार अपनी बालकनी के माध्यम से एक घंटा में ही 25,000 लीटर पानी इकट्ठा कर लेते हैं. (प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर)
News18Hindi
Updated: July 9, 2019, 11:23 PM IST
चेन्नई में एक अपार्टमेंट ऐसा भी है जिसमें रहने वाले लोग एक घंटे में ही 25,000 लीटर बारिश का पानी इकट्ठा कर लेते हैं. चेन्नई इस समय भारी जल संकट से गुज़र रहा है. ऐसे में वहां साबरी अपार्टमेंट में रहने वाले लगभग 60 परिवार अपनी बालकनी के माध्यम से एक घंटा में ही 25,000 लीटर पानी इकट्ठा कर लेते हैं.

इस समय इनके पास इक्‍ट्ठा किए गए पानी की इतनी मात्रा है कि यहां रहने वाले सभी परिवार अगले तीन महीने तक प्रयोग कर सकते हैं. इस जल संग्रहण के कारण इन लोगों का वह पैसा भी बचता है जो कुछ अपार्टमेंट के लोग निजी टैंकरों से पानी ख़रीदने पर ख़र्च करते हैं.'

जल के संग्रहण ने हमें पानी की किल्‍लत से बचा लिया

ओएमआर रेजिडेंट्स एसोसिएशन के सचिव हर्ष कोडा ने कहा, 'भूमिगत जल के रिचार्ज होने के बाद अपने कुओं में इसके आने की छह माह तक इंतजार करने के बजाय हम वर्षा जल का अपने बालकनी में सीधे संग्रहण करते हैं. इसे अपने टैंकों में जमा करते हैं. चेन्नई में ओएमआर को पानी की भारी क़िल्लत झेलनी पड़ रही है. यह पूरा आईटी कॉरिडोर भारी जल समस्या झेल रहा है. लेकिन वर्षा जल के संग्रहण ने हमें पानी की कमी से बचा लिया है.'

हर्ष कोडा ही इस योजना के जनक हैं. हर्ष कोडा की पत्नी प्रभा कोडा ने बताया, 'बारिश के पानी को संग्रहण की बात हमारे मन में चेन्नई में 2015 में बाढ़ के समय आई थी. अगर हम मानसून के दौरान पानी संग्रह कर सकते हैं तो हमें गर्मी के दिनों में पानी के लिए निजी टैंकरों पर निर्भर नहीं रहना होगा. अन्य रेज़िडेंट्स के साथ मिलकर हमने पाइप के माध्यम से अपनी-अपनी बालकनी में वर्षा जल के संग्रहण की साधारण युक्ति लगाई. यह पानी अलग टैंक में जमा किया जाना था.

तीन घंटे में एक लाख लीटर पानी संग्रहीत

उन्‍होंने कहा कि इस संग्रहीत जल का उपयोग हमारे घर के दैनिक कामों में होगा. तीन घंटे की लगातार बारिश से हम लोगों ने लगभग एक लाख लीटर पानी इकट्ठा किया है. जो 60 परिवारों के लिए तीन माह के ख़र्च के लिए पर्याप्त है. इस योजना के प्रबंधन पर ज़्यादा कुछ करने की ज़रूरत नहीं है. टेरेस और टैंक की सफ़ाई पर्याप्त है. हम लोग अन्य लोगों को भी इस मसले पर मदद करने के लिए तैयार हैं. बशर्ते वे वर्षा जल के संग्रहण के लिए तैयार हों.
Loading...

ये भी पढ़ें: देश में दुनिया का सिर्फ 4% पानी! जानें किस खतरे की आमद है

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 9, 2019, 11:23 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...