Mission Paani : यहां सोना नहीं पानी चुराकर ले जाते है लोग, ड्रमों में लगाए जाते हैं ताले

राजस्थान के अजमेर के वैशाली नगर में लोग सोने की नहीं बल्कि पानी को चोरों से बचाने की हर मुमिकन कोशिश में लगे रहते हैं.

News18Hindi
Updated: July 15, 2019, 3:41 PM IST
Mission Paani : यहां सोना नहीं पानी चुराकर ले जाते है लोग, ड्रमों में लगाए जाते हैं ताले
यहां सोना नहीं पानी चुराकर ले जाते है लोग, ड्रमों में लगाए जाते हैं ताले
News18Hindi
Updated: July 15, 2019, 3:41 PM IST
गर्मी का मौसम आते ही पानी की किल्लत भी बढ़ जाती है. कई राज्यों में पानी कि किल्लत इतनी बढ़ जाती है कि लोगों को घंटों लाइन में लगकर या फिर घंटो पैदल चलकर पानी लाने को मजबूर होना पड़ता है. यहां तक की कई जगहों पर तो पानी की चोरी तक हो जाती है. आप भले ही इस बात पर यकीन न करें लेकिन ये बिल्कुल सच है. राजस्थान के अजमेर के वैशाली नगर में लोग सोने की नहीं बल्कि पानी को चोरों से बचाने की हर मुमिकन कोशिश में लगे रहते हैं. पानी चोरी होने से बचाने के लिए ये लोग पानी के ड्रमों में ताले तक लगाते हैं.

गांव के लोगों का कहना है कि इलाके में पानी की काफी किल्लत है. ऐसे में अगर हमें कहीं से भी पानी मिल जाता है तो हम उसे किसी ड्रम में रख लेते हैं. गांव के आसपास के इलाकों में तापमान ज्यादातर 45 डिग्री के पार ही रहता है. ऐसे में अगर किसी के पास पानी होता है तो कुछ लोग इस ताक में रहते हैं कि उसे किसी भी तरह चुरा लिया जाए. यही कारण है कि हम अपने पानी के ड्रमों में ताला लगाकर रखते हैं. ठीक इसी तरह राजस्थान के ही पारसरामपुरा गांव के लोग भी अपने ड्रमों में ताले लगाकर रखते हैं.

Chennai, Mission Paani, Water Crisis, Water department

स्थानीय लोगों का कहना है कि यहां के लोग पानी को सोने से ज्यादा कीमत का मानते हैं. गांव के लोगों का कहना है कि हमने कभी भी ये नहीं सोचा था कि एक समय ऐसा भी आएगा जब लोग पानी चुराने लगेंगे. इस तरह की परिस्थिति में यह हमारे लिए सोने और चांदी से भी ज्यादा कीमती हो गया है.' पानी कि किल्लत का अंदजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि लोग पानी के लिए एक-दूसरे से लड़ जाते हैं. यही कारण है कि पंचायत भी हमसे कहती है कि पानी के ड्रमों में ताला लगाकर ही रखा जाए.
First published: July 15, 2019, 3:40 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...