• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • मिजोरम-असम सीमा विवाद: पीएम मोदी से मिलेंगे CM हिमंत बिस्व सरमा और भाजपा सांसद

मिजोरम-असम सीमा विवाद: पीएम मोदी से मिलेंगे CM हिमंत बिस्व सरमा और भाजपा सांसद

असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्व सरमा. (फाइल फोटो)

असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्व सरमा. (फाइल फोटो)

Mizoram Assam Border Dispute: पूर्वोत्तर के इन दो राज्यों के बीच 26 जुलाई को उनकी सीमा पर हुई झड़प में असम के छह पुलिस कर्मी मारे गये थे.

  • Share this:

    गुवाहाटी. मिजोरम के साथ जारी सीमा विवाद के मद्देनजर असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्व सरमा सोमवार को दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात करेंगे. इस मुलाकात के दौरान सरमा के साथ राज्य के भाजपा सांसद भी मौजूद रहेंगे. पूर्वोत्तर के इन दो राज्यों के बीच 26 जुलाई को उनकी सीमा पर हुई झड़प में असम के छह पुलिस कर्मी मारे गये थे और कछार के पुलिस अधीक्षक सहित 50 से अधिक लोग घायल हो गये थे.

    घटना के बाद दोनों राज्य सरकारों के प्रतिनिधियों ने अंतर-राज्यीय सीमा पर स्थिति सामान्य करने के लिए बीते पांच अगस्त को बैठक कर दशकों पुराने सीमा विवाद का टिकाऊ हल तलाशने तथा वाहनों का अंतर-राज्यीय आवागमन बहाल करने और तनाव घटाने के लिए टकराव वाले इलाकों से अपने-अपने पुलिस बलों को दूर रखने सहित अन्य उपाय करने के लिए सहमति जताई थी.

    मिजोरम ने लगाई गुहार- असम की नाकेबंदी के चलते कोरोना किट की भारी किल्लत, नहीं हो पा रही जांच

    स्थानीय लोगों से मिजोरम की आर्थिक नाकेबंदी हटाने का अनुरोध
    एक दिन पहले शनिवार को असम सरकार में मंत्री अशोक सिंघल और परिमल सुक्लाबैद्य ने कछार जिले के लैलापुर स्थित मिजोरम से लगती सीमा का दौरा किया और स्थानीय लोगों से मिजोरम की आर्थिक नाकेबंदी खत्म कर वाहनों को पड़ोसी राज्य में जाने देने का आग्रह किया. वहीं, जब मंत्री ट्रक संघ के सदस्यों से चर्चा कर रहे थे तभी नाराज जनता ने वहां पथराव शुरू कर दिया और वहां फंसे दो ट्रकों को क्षतिग्रस्त कर दिया. घटना की जानकारी मिलते ही कछार की पुलिस अधीक्षक रमणदीप कौर सहित बड़ी संख्या में पुलिस कर्मी मौके पर पहुंचे और स्थिति को नियंत्रण में लाया.

    दरअसल, दोनों राज्यों के अपने-अपने क्षेत्र की सीमा को लेकर अलग-अलग विचार हैं. मिजोरम का मानना है कि उसकी सीमाएं बाहरी प्रभाव से आदिवासियों का संरक्षण करने के लिए 1875 में खींची गई ‘आंतरिक रेखा’ पर है, जबकि असम 1930 के दशक में किये गये एक जिला सीमांकन के आधार पर दावा करता है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज