लाइव टीवी

नागरिकता कानून का विरोध: मेंगलोर में हिंसा, गुहा और योगेंद्र यादव की हिरासत से भड़के स्टालिन

News18Hindi
Updated: December 19, 2019, 7:10 PM IST
नागरिकता कानून का विरोध: मेंगलोर में हिंसा, गुहा और योगेंद्र यादव की हिरासत से भड़के स्टालिन
नागरिकता कानून और एनआरसी के विरोध में रामचंद्र गुहा और योगेंद्र यादव को हिरासत में लिया गया. फोटो. पीटीआई

बेंगलुरु में रामचंद्र गुहा (Ramchandra Guha) और दिल्ली में योगेंद्र यादव (Yogendra Yadav) के खिलाफ पुलिस कार्रवाई की स्टालिन ने निंदा की है. मेंगलोर में नागरिकता कानून/सीएए (Citizenship amendment act) और NRC के खिलाफ हो रहा विरोध उग्र हो गया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 19, 2019, 7:10 PM IST
  • Share this:
मेंगलोर: नागरिकता कानून/सीएए (Citizenship amendment act)  और राष्ट्रीय नागरिक पंजी (NRC) के खिलाफ हो रहा विरोध यहां गुरुवार को उग्र हो गया जब प्रदर्शनकारियों द्वारा पुलिसकर्मियों पर पत्थर फेंकने के बाद पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा. प्रदर्शनकारी धारा 144 का उल्लंघन करते हुए सड़क पर उतर आए. कुछ प्रदर्शनकारियों ने तख्तियां ली हुई थीं, जिन पर लिखा था-‘सीएए और एनआरसी वापस लो’ और ‘सीएए संविधान के खिलाफ है.’ उधर, बेंगलुरु में रामचंद्र गुहा (Ramchandra Guha) और दिल्ली में योगेंद्र यादव (Yogendra Yadav) के खिलाफ पुलिस कार्रवाई की स्टालिन ने निंदा की है.

पत्थरबाजी होने के बाद पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को तितर बितर करने के लिए लाठीचार्ज किया. क्षेत्र में दुकानें बंद थीं और वाहनों की आवाजाही नहीं हो रही थी. प्रतिकूल परिस्थितियों को देखते हुए पुलिस उपायुक्त कार्यालय के बाहर और मेंगलोर शहर के अन्य क्षेत्रों में सुरक्षा बढ़ा दी गई है. गुरुवार सुबह से लागू की गई धारा 144, 21 दिसंबर की मध्यरात्रि तक लागू रहेगी. सूत्रों ने बताया कि त्वरित प्रतिक्रिया बल को शहर में तैनात कर दिया गया है. पुलिस अधिकारी सोशल मीडिया पर अफवाहों फैलाने वालों पर भी निगरानी कर रहे हैं. पुलिस ने बताया कि सोशल मीडिया पर लोगों और छात्रों से विरोध प्रदर्शन में भाग लेने का आह्वान करने वालों पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी.

स्टालिन ने पुलिस कार्रवाई की निन्दा की
विपक्षी द्रमुक ने संशोधित नागरिकता कानून के विरोध में प्रदर्शनों के दौरान इतिहासकार रामचंद्र गुहा और स्वराज अभियान के प्रमुख योगेंद्र यादव के खिलाफ पुलिस कार्रवाई की गुरुवार को निन्दा की. योगेंद्र यादव और रामचंद्र गुहा को क्रमश: दिल्ली और बेंगलुरु पुलिस ने हिरासत में लिया. स्टालिन ने ट्वीट किया, ‘मैं सरकार और पुलिस के अधिकारियों की निन्दा करता हूं, जिन्होंने गुहा और यादव को गिरफ्तार किया है.’उन्होंने दिल्ली के कुछ हिस्सों में इंटरनेट बंद किए जाने का विरोध किया और कहा कि यह अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के विरुद्ध है.



News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 19, 2019, 7:10 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading