सिद्धू के मंदिर दौरे पर CID की नजर! रडार पर आए कांग्रेस और AAP के विधायक

अमृतसर में नवजोत सिंह सिद्धू ने स्वर्ण मंदिर में मत्‍था टेका.

Punjab Congress Drama: बुधवार को सिद्धू के साथ गए कुछ विधायकों पर गंभीर आरोप लगे हैं. इन सदस्यों पर पहले अवैध खनन (Illegal Mining) और शराब कारोबार जैसी गैर-कानूनी गतिविधियों में प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से शामिल होने की बातें सामने आई हैं.

  • Share this:
    चंडीगढ़. पंजाब कांग्रेस (Punjab Congress) के नव नियुक्त अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू के बुधवार को हुए मंदिर दौरों पर पंजाब क्राइम इन्वेस्टिगेशन डिपार्टमेंट (CID) की नजर है. मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, सिद्धू के साथ मौजूद कांग्रेस और आम आदमी पार्टी (AAP) के कुछ विधायक सीआईडी के रडार पर हैं. कहा जा रहा कि इनमें से कई विधायक गांभीर आरोपों का सामना कर रहे हैं. प्रदेश अध्यक्ष बनाए जाने के बाद भी सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह (Captain Amarinder Singh) और सिद्धू के बीच तकरार खत्म नहीं हुई है.

    इंडिया टुडे की रिपोर्ट के अनुसार, बुधवार को सिद्धू के साथ मंदिर दौरों पर गए कुछ विधायकों पर सीआईडी नजर बनाए हुए है. बुधवार सुबह सिद्धू के अमृतसर स्थित आवास के बाहर लोगों के आने-जाने पर नजर रख रहे सीआईडी अधिकारियों ने बताया कि पहले बताई गई 62 की संख्या के मुकाबले विधानसभा के केवल 48 सदस्य ही मौजूद थे. इनमें आम आदमी पार्टी के तीन पूर्व विधायकों का नाम भी शामिल है, जो हाल ही में कांग्रेस में शामिल हुए हैं.

    यह भी पढ़ें: Punjab Congress Crisis: नवजोत सिंह सिद्धू का श्रीहरमंदिर साहिब दौरा बना 'पावर शो', अमरिंदर गुट भी एक्टिव

    रिपोर्ट में सूत्रों के हवाले से लिखा गया कि बुधवार को सिद्धू के साथ गए कुछ विधायकों पर गंभीर आरोप लगे हैं. ये सदस्यों पर पहले अवैध खनन और शराब कारोबार जैसी गैर-कानूनी गतिविधियों में प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से शामिल होने की बातें सामने आई हैं. रिपोर्ट के अनुसार, इनमें से एक विधायक पर होशियारपुर इलाके में अवैध खनन के आरोप हैं. खनन विभाग ने उन्हें दिसंबर 2020 में 1.65 करोड़ रुपये की वसूली का नोटिस भी भेजा था.

    सीएम सिंह लगा चुके हैं आरोप
    राज्य में पार्टी की आंतरिक कलह को खत्म करने के लिए कांग्रेस के शीर्ष नेतृत्व की तरफ से तीन सदस्यीय पैनल गठित की गई थी. रिपोर्ट में सूत्रों के हवाले से बताया गया है कि कैप्टन अमरिंदर सिंह ने पैनल को पार्टी में मौजूद 'दुष्ट तत्वों' के बारे में जानकारी दे दी थी. इधर, कैबिनेट मंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने सीएम सिंह पर 'बदले की राजनीति' करने के आरोप लगाए हैं. उन्होंने मीडिया को बताया कि दलितों से जुड़े मुद्दे उठाने के चलते उन्हें परेशान किया गया और झूठे मामले में फंसाया गया. चन्नी भी बुधवार को सिद्धू के साथ मौजूद थे.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.