मेहुल चोकसी के प्रत्यर्पण पर टली सुनवाई, अगली तारीख अभी तय नहीं

मेहुल चोकसी इस समय डोमिनिका प्रशासन की कस्टडी में है और कानूनी कार्रवाई की जा रही है. फाइल फोटो

मेहुल चोकसी इस समय डोमिनिका प्रशासन की कस्टडी में है और कानूनी कार्रवाई की जा रही है. फाइल फोटो

मेहुल चोकसी (Mehul Choksi) के प्रत्यर्पण मामले की सुनवाई डॉमिनिका की अदालत में टल गई है. इससे पहले बुधवार को हुई सुनवाई में चोकसी ने कोर्ट में कहा कि वह डोमिनिका में सुरक्षित नहीं है.

  • Share this:

नई दिल्ली. पंजाब नेशनल बैंक (PNB Scam) घोटाले के मास्टरमाइंड भगोड़े मेहुल चोकसी (Mehul Choksi) को डॉमिनिका से वापस लाने की कोशिशें जारी हैं. मेहुल चोकसी के प्रत्यर्पण मामले की सुनवाई डॉमिनिका की अदालत में टल गई है. चोकसी के वकील ने कोट न करने की शर्त पर बताया है कि अभी अगली तारीख के लिए जज ने कहा है  'likely hear on 1st july' लेकिन 'लाइकली' शब्द का इस्तेमाल है अगली तारीख के बारे में पता लगने में समय लगेगा. कोर्ट ने कहा है कि प्रॉसिक्यूशन और डिफेंस के वकील आपस मे बात करें. सुनवाई की अगली तारीख का ऐलान जल्द ऑफिशियली हो जाएगा. कुल मिलाकर अभी मेहुल चौकसी जल्द भारत नही आ पाएगा.

इससे पहले बुधवार को हुई सुनवाई में चोकसी ने कोर्ट में कहा कि वह डोमिनिका में सुरक्षित नहीं है. हालांकि यह भी कहा जा रहा है कि चोकसी वापस लाना भारतीय एजेंसियों के लिए आसान नहीं होगा.

58 देशों के साथ प्रत्यर्पण की संधि या व्यवस्था

इस वक्त भारत की 58 देशों के साथ प्रत्यर्पण की संधि या व्यवस्था है. डॉमिनिका इन देशों में शामिल नहीं है. हालांकि भारत की एंटीगा और बारबुडा के साथ प्रत्यर्पण की व्यवस्था है. मेहुल चोकसी ने भारत से भागने से पहले एंटीगा की नागरिकता ले ली थी. ये नागरिकता उसने 2017 में इनवेस्टमेंट प्रोग्राम के तहत ली थी. अगर चोकसी एंटीगा में पकड़ा जाता तो उसे वापस लाने में आसानी होती.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज