Assembly Banner 2021

नौकरानी को पीटा-बंधक बनाया, अपार्टमेंट पर टूट पड़ी भीड़

Image Source: News18.com

Image Source: News18.com

नोएडा सेक्टर 78 के महागुन मॉर्डन कॉम्प्लेक्स में नौकरानी जोहरा बाई को पीटने और बंधक बनाने के मामले में बुधवार को हंगाम हो गया. सैकड़ों लोग कॉम्प्लेक्स में घुस आए और अपार्टमेंट पर पत्थर फेंकने लगे.

  • Share this:
नोएडा सेक्टर 78 के महागुन मॉर्डन कॉम्प्लेक्स में नौकरानी जोहरा बाई को पीटने और बंधक बनाने के मामले में बुधवार को हंगाम हो गया. सैकड़ों लोग कॉम्प्लेक्स में घुस गए और अपार्टमेंट पर पत्थर फेंकने लगे.

दरअसल, इस भीड़ में जोहरा बाई के रिश्तेदार और पड़ोसी शामिल थे. जोहरा सोसाइटी में काम करती थी. उसका आरोप है कि सोमवार को उसे चोरी के इल्जाम में पीटा गया. जोहरा को पूरी रात बंधक बनाने का आरोप भी लगाया गया है.

कॉम्प्लेक्स में रह रहे लोगों ने नेटवर्क18 को बताया कि भीड़ सुबह 7 बजे से ही इकट्ठी होनी शुरू हो गई थी. वो सोसाइटी के अंदर घुसने की कोशिश कर रहे थे, लेकिन गार्ड्स ने उन्हें रोक दिया. तब भीड़ ने पत्थर फेंकने शुरू कर दिए.



पुलिस सुपरिटेंडेंट अरुण कुमार सिंह ने कहा, 'अभी कोई मामला दर्ज नहीं किया गया है. मालिक का कहना था कि नौकरानी ने पैसे चुराए हैं. उनके अनुसार जोहरा कल कॉम्प्लेक्स से चली गई थी.'
सिंह ने बताया कि प्रदर्शनकारियों का आरोप है कि जोहरा को घर के मालिक ने पूरी रात घर में बंधक बनाकर रखा था. जोहरा को जिला अस्तपाल में भर्ती कराया गया है. उसकी हालत स्थिर है.

Image Source: News18.com


मालिक ने किया आरोपों से इनकार
फिलहाल हालात को काबू में कर लिया गया है. प्रदर्शनकारी जोहरा को पीटे जाने का विरोध कर रहे थे. एक प्रदर्शनकारी ने कहा कि अगर जोहरा ने चोरी भी की थी कि तो उसे पुलिस के हवाले करना चाहिए था.

जोहरा के पति ने बताया, 'मेरी पत्नी सुबह जल्दी निकल जाती है और शाम 6 बजे घर आ जाती है. जब वह मंगलवार को नहीं लौटी तो उन्होंने रात करीब 8 बजे उसे ढूंढना शुरू किया और अपार्टमेंट पहुंच गए. हमने गार्ड से अंदर जाने के लिए कहा लेकिन उसने मना कर दिया. हम पूरी रात बारिश में खड़े रहकर गार्ड से मिन्नतें करते रहे. सुबह जब हमारे पड़ोसी आए तो हमने जोहरा को ढूंढ कर निकाला. वह बहुत बुरी हालत में थी. उसके कपड़े भी फटे हुए थे. पुलिस उसे अस्तपताल ले गई है.'

वहीं, मकान मालिक ने बंधक बनाने का विरोध किया है. उन्होंने बताया कि जब जोहरा को सोसाइट के प्रशासनिक कार्यालय में चलने के लिए कहा तो वो भाग गई. जो सीसीटीवी फुटेज में जरूर होगी. वह अपना मोबाइल भी उनके घर छोड़ गई थी. फिर उन्होंने एडमिनिस्ट्रेशन में रामास्वामी के पास गए और शिकायत दर्ज कराकर उन्हें मोबाइल सौंप दिया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज