Home /News /nation /

बच्चे को बिलखता देख भीड़ ने पिता को समझा 'बच्चा-चोर', पीट-पीटकर किया अधमरा

बच्चे को बिलखता देख भीड़ ने पिता को समझा 'बच्चा-चोर', पीट-पीटकर किया अधमरा

30 साल के आदमी को पीटने के लिए जुटी हुई भीड़ (फोटोः न्यूज़ 18)

30 साल के आदमी को पीटने के लिए जुटी हुई भीड़ (फोटोः न्यूज़ 18)

खालिद चिल्लाता रहा कि वो उसका पिता है. लेकिन उस वक्त वह नशे में था, इसलिए किसी ने भी उसकी बात नहीं सुनी.

    मेंगलुरू में 2 साल के एक बच्चे का अपहरण करने की अफवाह के चलते उग्र भीड़ ने गुरुवार को 30 साल के एक आदमी को पीट-पीट कर अधमरा कर दिया. भीड़ के हमले के शिकार शख्स का नाम खालिद है. वह बच्चे के साथ ऑटो में सफर कर रहा था. डांट और मार पड़ने की वजह से वह बच्चा रो रहा था. इस दौरान दो बाइक सवारों ने जब बच्चे को रोते हुए देखा तो वो उसका पीछा करने लगे.

    खालिद चाय पीने के लिए जब एक रेस्टोरेंट में गया, तो वहां दोनों बाइकसवारों ने आकर बच्चे के बारे में पूछताछ की. जब खालिद कोई संतोषजनक जवाब नहीं दे सका तो दोनों बाइकसवार उसे बच्चा-चोर कहकर पीटने लगे. इसके बाद कुछ और लोग भी वहां आ गए और उसे पीटने लगे.

    ये भी पढ़ें- WhatsApp पर एक मैसेज और 22 मौत

    खालिद चिल्लाता रहा कि वो उसका पिता है. लेकिन उस वक्त वह नशे में था, इसलिए किसी ने भी उसकी बात नहीं सुनी.

    युवक का बच्चा (फोटोः न्यूज़ 18)


    हालांकि इस दौरान वहां मौजूद किसी शख्स ने पुलिस को खबर कर दी. पुलिस ने आकर भीड़ को हटाया. जब पुलिस ने पूछा कि उस शख्स को किसने पहले मारना शुरू किया, तो कोई भी सामने नहीं आया. इसके बाद पुलिस खालिद को थाने ले गई और मामले की तह तक पहुंचने के लिए उसकी बीवी को बुलाया.

    पुलिस को जब यकीन हो गया कि बच्चा खालिद का ही है, तो उन्होंने उसे छोड़ दिया. पुलिस के मुताबिक, खालिद किसी के खिलाफ शिकायत दर्ज कराना नहीं चाहता था, इसलिए पुलिस ने भी कोई केस दर्ज नहीं किया.

    ये भी पढ़ेंः कोलकाता के प्लेस्कूल में 2 साल के बच्चे का यौन उत्पीड़न, मामला दर्ज

    दरअसल व्हाट्स ऐप पर ऐसी अफवाहें फैलाई गई कि बच्चा चोरों का एक गैंग इलाके में सक्रिय है. इन्हीं अफवाहों के चलते पिछले कुछ महीनों के दौरान 'बच्चा चोर' होने के शक में भीड़ द्वारा पिटाई की 20 से ज्यादा घटनाएं सामने आ चुकी है.

    इससे पहले गुरुवार को ही असम में भीड़ ने तीन पुजारियों को बच्चा चोर होने के शक में दबोच लिया था, लेकिन सही समय पर सेना के जवानों ने आकर हालात को काबू में किया. इसी तरह से चेन्नई में कुछ दिनों में पुलिस ने ऐन वक्त पर पहुंचकर दो मजदूरों को भीड़ के चुंगल से बचाया था.

    Tags: Crime Against Child, Kidnapping Case

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर