दुनिया के सबसे ऊंचे युद्ध स्थल सियाचिन में बनेंगी आधुनिक सड़कें, नए पुल

News18Hindi
Updated: September 10, 2019, 7:16 AM IST
दुनिया के सबसे ऊंचे युद्ध स्थल सियाचिन में बनेंगी आधुनिक सड़कें, नए पुल
दुनिया के सबसे ऊंचे युद्ध स्थल सियाचिन आधुनिक सड़कें, नये पुल बनाने की योजना पर काम शुरू कर दिया गया है. (फाइल फोटो)

सीमा सड़क संगठन (BRO) ने दुनिया के सबसे ऊंचे युद्ध स्थल सियाचिन (Siachen) के आसपास की सड़कों के आधुनिकीकरण और नई सड़कें बनाने की व्यापक योजना पर काम शुरू कर दिया है. सियाचिन में सैनिकों और उपकरणों की आवाजाही में तीव्रता लाने के लिए लद्दाख सेक्टर में BRO ने इस योजना पर काम शुरू कर दिया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 10, 2019, 7:16 AM IST
  • Share this:
लेह. सीमा सड़क संगठन (BRO) ने दुनिया के सबसे ऊंचे युद्ध स्थल सियाचिन (Siachen) के आसपास की सड़कों के आधुनिकीकरण और नई सड़कें बनाने की व्यापक योजना पर काम शुरू कर दिया है. सियाचिन में सैनिकों और उपकरणों की आवाजाही में तीव्रता लाने के मकसद से लद्दाख सेक्टर में इस व्यापक योजना पर सीमा सड़क संगठन ने काम शुरू कर दिया है. अधिकारियों ने यह जानकारी दी है. उन्होंने बताया कि ‘विजयक’ परियोजना के तहत सीमा सड़क संगठन (बीआरओ) पनामिक से सियाचिन आधार शिविर तक और सियाचिन ग्लेशियर की ओर जाने वाली अन्य अंदरूनी सड़कों का निर्माण एवं आधुनिकीकरण कर रहा है.

प्रतिकूल जलवायु का सामना करने में सक्षम होंगी सड़कें
एक अधिकारी ने बताया कि परियोजना में नई तकनीक और प्रौद्योगिकी का इस्तेमाल किया जा रहा है ताकि सड़कें प्रतिकूल जलवायु की स्थिति का सामना कर सकें. इस क्षेत्र में पूरे साल मौसम प्रतिकूल बना रहता है. अधिकारी ने बताया कि, ऐसे मौसमी हालात में संचालन तथा निर्माण गतिविधि को जारी रखना आसान नहीं होता है जहां तापमान गर्मी में भी शून्य से 10-15 डिग्री नीचे होता है.

झूला पुल की जगह एक नए पुल के निर्माण की योजना बना रहा है बीआरओ

अधिकारियों के अनुसार सामरिक क्षेत्र में विषम परिस्थिति एवं प्रतिकूल मौसम के बावजूद सड़कों की मरम्मत और आधुनिकीकरण का काम जारी रखा गया है. ये सड़कें वाहनों के अनुकूल हैं, जिस पर सैनिक, सामग्री, भारी मशीन, सामरिक रूप से अहम सियाचिन की ओर जा सकते हैं. अधिकारियों ने बताया कि बीआरओ सियाचिन बेस पर झूला पुल की जगह एक नये पुल के निर्माण की योजना बना रहा है ताकि सुदूर क्षेत्रों में भारी सामान पहुंचाने में आने वाली किसी भी रूकावट को दूर किया जा सके.

ये भी पढ़ें - 

ओडिशा: ट्रक में JCB रखकर ले जा रहा था ड्राइवर, कटा 86,500 रुपये का चालान
Loading...

Motor Vehicle Act: इन नियमों के उल्लंघन पर भी कट सकता है चालान

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 10, 2019, 6:27 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...