Home /News /nation /

Traffic Rules तोड़ना अब होगा नामुमकिन, इस खास डिवाइस से होगी हर गाड़ी की पहचान

Traffic Rules तोड़ना अब होगा नामुमकिन, इस खास डिवाइस से होगी हर गाड़ी की पहचान

कोरोना काल में ऐसी तकनीक को इजाद किया गया है, जिससे ट्रैफिक नियम तोड़ने वालों पर आसानी से कार्रवाई की जा सके.

कोरोना काल में ऐसी तकनीक को इजाद किया गया है, जिससे ट्रैफिक नियम तोड़ने वालों पर आसानी से कार्रवाई की जा सके.

मौजूदा समय में सिर्फ एक ही जगह पर स्पीड मॉनिटरिंग सिस्टम लगा होता है. इसके अलावा इस सिस्टम से 32 गाड़ियों की मॉनिटरिंग हो सकती है. इस सिस्टम की एक बड़ी खूबी यह भी है कि यह भारी गाड़ियों और हल्की गाड़ियों में अंतर कर सीधे उनकी एंट्री सेंट्रल कंट्रोल रूम तक पहुंचा सकता है. जिन लोगों ने ज्यादा स्पीड पर सड़क पर गाड़ी चलाई है अंतिम का चालान जेनरेट हो जाता है.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली. कोरोना काल के वक्त पुलिस के सामने एक बड़ी दिक्कत यह थी कि वह शराब पीकर गाड़ी चलाने वालों की चेकिंग नहीं कर सकती थी. क्योंकि संक्रमण का खतरा बहुत ज्यादा रहता था. इससे भारत की सड़कों पर शराब पीकर गाड़ी चलाने की वजह से एक्सीडेंट का खतरा बहुत ज्यादा बढ़ गया. लेकिन अब इसका तोड़ निकाल लिया गया है और एल्कोहल एनेलाइजर से सड़क पर शराब पीकर गाड़ी चलाने वालों की पहचान होगी. इसमें पुलिसकर्मियों को पास जाने की जरूरत नहीं होगी.

ग्वालियर की ट्रैफिक एसपी सर हितिका वासल जिन्होंने दिल्ली ट्रैफिक इंफ्राटेक एग्जीबिशन में हिस्सा लिया था, उनका कहना है यह डिवाइस बहुत ज्यादा उपयोगी साबित होगी हमारे लिए क्योंकि पुलिस वालों पर जो काम का दबाव है वह अब कम हो जाएगा. इस डिवाइस की पूरी रिपोर्ट वह अपने आला अधिकारियों को सौंपेंगी. उन्होंने बताया कि इस डिवाइस में सेंसर लगे हैं जो कि शराब पीने वाले लोगों की सांस से जल उठेंगे और तुरंत पुलिस उनका चालान काट सकेगी.

राकेश यादव डायरेक्टर एक्सपोटेक प्राइवेट लिमिटेड जिन्होंने इस प्रोडक्ट को डेवलप किया है उनका कहना है कि पिछले 1 साल से वह इस पर काम कर रहे थे और कोरोना काल में सड़क पर की वास्तविक परिस्थिति को समझते हुए देश को विकसित किया गया है.

इस एग्जीबिशन में वेहिकलल माउंटेड रूफटॉप स्पीड मानिटरिंग सिस्टम को भी दिखाया गया है. दिल्ली में मौजूद होकर मॉनिटर पर से तस्वीर मुंबई पुणे हाईवे की देखी जा सकती हैं. इस सिस्टम को गाड़ियों में फिक्स किया जा सकता है और अलग-अलग जगहों पर ट्रैफिक पुलिस इसको लगा सकती है. मौजूदा समय में सिर्फ एक ही जगह पर स्पीड मॉनिटरिंग सिस्टम लगा होता है. इसके अलावा इस सिस्टम से 32 गाड़ियों की मॉनिटरिंग हो सकती है. इस सिस्टम की एक बड़ी खूबी यह भी है कि यह भारी गाड़ियों और हल्की गाड़ियों में अंतर कर सीधे उनकी एंट्री सेंट्रल कंट्रोल रूम तक पहुंचा सकता है. जिन लोगों ने ज्यादा स्पीड पर सड़क पर गाड़ी चलाई है अंतिम का चालान जेनरेट हो जाता है.

इस सिस्टम के 200 पीस को महाराष्ट्र सरकार ने आर्डर किया है इसको बनाने वाली कंपनी के मुताबिक.. इसके अलावा इस एग्जीबिशन में सड़क दुर्घटना को रोकने के लिए आधुनिक डिवाइडर और अन्य उपकरण प्रदर्शित किए गए हैं.. केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने मंगलवार को इसका उद्घाटन किया था गुरुवार तक चलने वाली इस प्रदर्शनी में आयोजकों को उम्मीद है देशभर की ट्रैफिक पुलिस के लोगों को ट्रैफिक मैनेजमेंट में एक नई दिशा मिलेगी

Tags: Traffic rules

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर