आतंकी घटना के बाद पहली बार सरकार ने बुलाई सर्वदलीय बैठक, राहुल बोले- मेरा पूरा समर्थन

उड़ी, पठानकोट और नगरोटा में हुये आतंकी हमले के बाद पहली बार सत्ताधारी दल ने सर्वदलीय बैठक बुलाई है.

News18Hindi
Updated: February 15, 2019, 2:20 PM IST
आतंकी घटना के बाद पहली बार सरकार ने बुलाई सर्वदलीय बैठक, राहुल बोले- मेरा पूरा समर्थन
CCS मीटिंग में मौजूद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अन्य नेता
News18Hindi
Updated: February 15, 2019, 2:20 PM IST
पुलवामा हमले के बाद केंद्र सरकार ने सर्वदलीय बैठक बुलाई है. यह बैठक शनिवार को होगी. गुरुवार को जम्मू और कश्मीर स्थित पुलवामा में हुये IED ब्लास्ट में केंद्रीय रिजर्व पुलिस फोर्स के 40 जवान शहीद हो गया था. आतंकी हमले के बाद एनडीए नीत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार ने पहली बार ऐसी कोई बैठक बुलाई है. माना जा रहा है कि बैठक में भारत की ओर भविष्य की कार्रवाई के बारे में सर्वसम्मति से विचार किया जा सकता है.

उड़ी, पठानकोट और नगरोटा में हुये आतंकी हमले के बाद पहली बार सत्ताधारी दल ने सर्वदलीय बैठक बुलाई है. इससे पहले पिछली बार सितंबर 2016 में एक आतंकवादी हमले की पृष्ठभूमि में सर्वदलीय बैठक हुई थी, जब सरकार ने नियंत्रण रेखा पर सर्जिकल स्ट्राइक किए जाने के बाद सभी दलों के प्रतिनिधियों को सूचित करने का निर्णय लिया था. यह सिर्फ ब्रीफिंग मीटिंग थी, इसमें किसी तरह का कोई परामर्श नहीं किया गया था.

यह भी पढ़ें: पुलवामा हमले की चीन ने की निंदा पर मसूद अजहर पर पाबंदी लगाने की मांग ठुकराई



इस बैठक के संदर्भ में  अंतर यह है कि सरकार इस बार पाकिस्तान के खिलाफ स्पष्ट, निर्णायक कार्रवाई करने से पहले एक सर्वदलीय बैठक बुला रही है. केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने प्रधानमंत्री की अध्यक्षता में एक कैबिनेट कमेटी ऑन सिक्योरिटी (CCS) की बैठक के अंत में पत्रकारों को सूचित किया कि पाकिस्तान से मोस्ट फेवर्ड नेशन (MFN) का दर्जा वापस लिया जा रहा है. जेटली ने यह भी कहा कि इस हमले में 'पाकिस्तान के खिलाफ सीधे सबूत' थे.

यह भी पढ़ें: पुलवामा हमले पर CRPF का बड़ा बयान- न भूलेंगे, न माफ करेंगे

उल्लेखनीय बात यह भी है कि प्रधान विपक्षी दल कांग्रेस के अध्यक्ष राहुल गांधी ने शुक्रवार सुबह राजधानी में आयोजित एक प्रेसवार्ता में कहा कि वह और उनकी कांग्रेस पार्टी सरकार का समर्थन करेंगे. राहुल गांधी ने कहा, 'मैं इस कठिन समय में सरकार और जवानों का समर्थन करूंगा.'

यह भी पढ़ें:  पुलवामा हमले पर बोले राहुल गांधी- पूरा विपक्ष देश और सरकार के साथ
Loading...

उन्होंने राजनीतिक विवादों पर सवाल उठाते हुए कहा कि उचित नहीं है. उन्होंने कहा, 'जिन लोगों ने ये किया है उनको ये नहीं लगना चाहिए कि वो इस देश को थोड़ी सी भी चोट पहुंचा सकते हैं. उनको मालूम होना चाहिए कि ये देश इन चीजों को भूलता नहीं.'

यह भी पढ़ें:   प्रधानमंत्री मोदी ने सेना को दी पूरी छूट, अब आतंकियों से होगी सीधी लड़ाई

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास,सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...