मोदी का बड़ा कार्यक्रम, संबोधन में शामिल होंगे 50 हजार लोग - भारतीय राजदूत

News18Hindi
Updated: September 11, 2019, 11:00 AM IST
मोदी का बड़ा कार्यक्रम, संबोधन में शामिल होंगे 50 हजार लोग - भारतीय राजदूत
22 सितंबर को ह्यूस्टन में मोदी का यादगार संबोधन

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) इस माह के अंत में ह्यूस्टन में 50 हजार से अधिक भारतीय अमेरिकी समुदाय को संबोधित करेंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 11, 2019, 11:00 AM IST
  • Share this:
वाशिंगटन: अमेरिका (America) में भारत (India) के राजदूत हर्षवर्धन श्रृंगला (Harsh Vardhan Shringla) ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) इस माह के अंत में ह्यूस्टन में 50 हजार से अधिक भारतीय अमेरिकी समुदाय को संबोधित करेंगे जो एक उल्लेखनीय और यादगार कार्यक्रम रहेगा. श्रृंगला ने अपने साक्षात्कार में कहा कि मेरा मानना है कि ह्यूस्टन इस प्रकार के अभी तक हुए सभी कार्यक्रमों (प्रधानमंत्री के तौर पर मोदी का विदेश में संबोधन) में से सबसे बड़ा और अधिक प्रभावशाली रहेगा.

भारतीय राजदूत 22 सितंबर को एनआरजी स्टेडियम में होने वाले इस विशाल कार्यक्रम की तैयारियों में व्यक्तिगत तौर पर शामिल हैं. उन्होंने कहा कि यह एक ऐतिहासिक कार्यक्रम होगा, जिसे ह्यूस्टन के लोग हमेशा याद रखेंगे. कार्यक्रम को 'हाउडी, मोदी!' नाम दिया गया है. हाउडी- हाउ डू यू डू का शॉर्ट फॉर्म है, जो दक्षिण-पश्चिम अमेरिका में काफी लोकप्रिय शब्द है. लोग इसे दोस्ताना अंदाज में हालचाल पूछने में इस्तेमाल करते हैं.

इससे पहले कहा हुए थे ऐसे कार्यक्रम
इससे पहले मोदी ने इस तरह के कई सम्बोधन दिये हैं जिनमें से 2014 में न्यूयॉर्क के मैडिसन स्क्वायर गार्डन में और 2016 में सिलिकॉन वैली के सान जोस में भारतीय अमेरिकी समुदाय को संबोधित करने वाले कार्यक्रम हैं. यहां प्रधानमंत्री ने 20 हजार से अधिक लोगों को संबोधित किया था.

कार्यक्रम में कितने लोग होंगे शामिल
अब तक देश में मोदी का यह तीसरा इवेंट है, 22 सितंबर को होने वाले इस कार्यक्रम में शिरकत करने के लिए 50 हजार से अधिक भारतीय अमेरिकियों ने पंजीकरण कराया है. रजिस्ट्रेशन के लिए लोगों से कोई फीस नही ली जा रही है. इनमें से अधिकतर लोग ह्यूस्टन और डलास से और इसके आस पास से हैं.

पीएम मोदी के यहा आने से इन चीजों को मिलेगा बढ़ावा
Loading...

प्रधानमंत्री के यहां आने से ह्यूस्टन और भारत दोनों देशों के बीच संबंध और अच्छे होंगें साथ ही कारोबार, संस्कृति और पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा.

श्रृंगला ने कहा कि मेरा मानना है कि यह ह्यूस्टन शहर के सबसे बड़े स्टेडियम में बहुत बड़ा कार्यक्रम होगा. इसमें साजो सामान संबंधी तथा बड़ी संगठनात्मक चुनौतियां आएंगी. लेकिन समुदाय इसके लिए मिल कर काम कर रहा है. उन्होंने कहा कि यह मेरे लिए गर्व की बात है, हम सभी इस कार्यक्रम के साक्षी बनेंगे.

ये भी पढ़ें: आंध्र सरकार ने चंद्रबाबू नायडू और उनके बेटे को किया नजरबंद

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 11, 2019, 11:00 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...