Home /News /nation /

mohali rocket attack mastermind close associate of terrorist pakistan isi

मोहाली हमला : ISI की मदद से बब्बर खालसा और गैंगस्टर लखविंदर ने दागा रॉकेट, पुलिस ने किया खुलासा

पंजाब पुलिस की खुफिया इकाई के मुख्यालय परिसर में 9 मई की रात को एक धमाका हुआ था.

पंजाब पुलिस की खुफिया इकाई के मुख्यालय परिसर में 9 मई की रात को एक धमाका हुआ था.

Mohali Rocket Attack: मोहाली के सेक्टर-77 में पंजाब पुलिस की खुफिया इकाई के मुख्यालय परिसर में सोमवार रात को एक धमाका हुआ था. धमाका रात में करीब सात बज कर 45 मिनट पर हुआ था.

चंडीगढ़. पंजाब पुलिस ने शुक्रवार को कहा कि मोहाली में उसकी खुफिया इकाई के मुख्यालय में विस्फोट का मुख्य साजिशकर्ता तरनतारन ज़िले का रहने वाला लखविंदर सिंह लांडा है, जो कि एक गैंगस्टर है और 2017 में कनाडा चला गया था. वह बब्बर खालसा के आतंकी हरविंदर सिंह रिंडा का करीबी सहयोगी है, जिसके पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई से करीबी रिश्ते हैं. पंजाब पुलिस ने कहा कि पाकिस्तान आईएसआई के समर्थन से बीकेआई (बब्बर खालसा इंटरनेशनल) और गैंगस्टर द्वारा इस रॉकेट हमले को अंजाम दिया गया.

गौरतलब है कि मोहाली के सेक्टर-77 में पंजाब पुलिस की खुफिया इकाई के मुख्यालय परिसर में सोमवार रात को एक धमाका हुआ था. धमाका रात सात बज कर करीब 45 मिनट पर हुआ था. घटना के बाद मोहाली के सोहना पुलिस थाने में भारतीय दंड संहिता (आईपीसी), गैरकानूनी गतिविधियां (रोकथाम) अधिनियम (यूएपीए) और विस्फोटक अधिनियम की संबंधित धाराओं के तहत एक मामला दर्ज किया गया था.

पंजाब के पुलिस महानिदेशक ने कहा, “रॉकेट हमले का मुख्य साजिशकर्ता लखबीर सिंह लांडा है. वह तरनतारन का रहने वाला है. वह एक गैंगस्टर है और 2017 में कनाडा में स्थानांतरित हो गया. वह हरिंदर सिंह रिंडा का करीबी सहयोगी है, जो वधावा सिंह और आईएसआई का हिस्सा है, जो कि  पाकिस्तान से संचालित होता है.” पुलिस अधिकारी ने बताया कि हिरासत में लिए गए तरनतारन जिले के कुल्ला गांव निवासी निशान सिंह ने दो आरोपियों को अपने घर और अपने दो संपर्कों के घरों में शरण दी थी.

‘निशान सिंह ने ही आरोपियों को RPG मुहैया कराया’
डीजीपी ने कहा कि निशान ने ही आरोपियों को RPG मुहैया कराया था. सिंह पहले से ही कई आपराधिक मामलों का सामना कर रहा है, जिसमें एक मामला हत्या के प्रयास का है, जबकि उसके खिलाफ दूसरा मामला स्वापक औषधि और मन:प्रभावी पदार्थ अधिनियम (एनडीपीएस) के तहत दर्ज है. पुलिस ने बताया, “निशान और उसके दो संपर्कों के अलावा घटना में एक अन्य शख्स बलजिंदर रेम्बो भी शामिल था. वह भी तरनतारन जिले का रहने वाला है- उसके पास से एक एके-47 बरामद हुआ है.”

निशान सिंह घटना की मुख्य कड़ी
डीजीपी ने कहा, “हमने दिनरात एक कर के आज केस की जांच पूरी कर ली है. पुलिस ने मुख्य साजिशकर्ता लखबीर सिंह लांडा की पहचान की है, जो हरिंदर सिंह रिंडा का करीबी है. लांडा और रिंडा दोनों की मिलीभगत से इस घटना को अमलीजामा पहनाया गया. लांडा के साथी निशान सिंह और चढ़त सिंह भी हैं.” पुलिस ने बताया कि निशान सिंह ने साजों-सामान मुहैया कराया और उसे कवर भाट और बलजीत कौर के घर रखा. निशान सिंह ने लांचर लेकर दोनों लोगों को दिए. अधिकारी ने निशान सिंह को घटना की मुख्य कड़ी बताया.

Tags: Khalistan, Punjab Police

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर