होम /न्यूज /राष्ट्र /मनी लॉन्डरिंग केस में ED की बड़ी कार्रवाई, पूर्व आयकर अधिकारी की 7.33 करोड़ की संपत्ति जब्त

मनी लॉन्डरिंग केस में ED की बड़ी कार्रवाई, पूर्व आयकर अधिकारी की 7.33 करोड़ की संपत्ति जब्त

प्रर्वतन निदेशालय ‘ईडी’ ने धन शोधन निरोधक कानून के तहत पूर्व आयकर अधिकारी के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की है.

प्रर्वतन निदेशालय ‘ईडी’ ने धन शोधन निरोधक कानून के तहत पूर्व आयकर अधिकारी के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की है.

Money Laundering Case: प्रर्वतन निदेशालय (ED) ने धन शोधन निरोधक कानून के तहत पूर्व आयकर अधिकारी के खिलाफ बड़ी कार्रवाई क ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

सीबीआई ने 2011 में घर में घूस लेते हुए आईआरएस अफसर को किया था गिरफ्तार
दंपति से मिली रकम उनकी आय के स्रोतों के मुकाबले 171.41 फीसदी ज्यादा

नई दिल्ली. प्रर्वतन निदेशालय (ED) ने धन शोधन निरोधक कानून के तहत पूर्व आयकर अधिकारी के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की है. पूर्व आयकर अधिकारी की 7.33 करोड़ रुपये मूल्य की संपत्ति जब्त की है. इस कार्रवाई को लेकर ईडी के अधिकारियों ने सोमवार को जनकारी दी है. भ्रष्टाचार के आरोपी इस पूर्व अधिकारी को केंद्र सरकार ने कुछ साल पहले ही अनिवार्य सेवानिवृत्ति दे दी थी.

धन शोधन रोकथाम कानून ‘पीएमएलए’ के तहत जारी आदेश पर 30 सितंबर को पूर्व आयकर अधिकारी अंदासु रविंदर की पांच अचल संपत्तियां जब्त की गईं. रविंदर भारतीय राजस्व सेवा ‘आईआरएस’ के वर्ष 1991 बैच के पूर्व अधिकारी हैं और वह इसके पहले चेन्नई में आयकर विभाग के अतिरिक्त निदेशक पद पर तैनात थे.

सीबीआई ने 2011 में घर में घूस लेते हुए आईआरएस अफसर को किया था गिरफ्तार

रविंदर को केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो ‘सीबीआई’ द्वारा अगस्त 2011 में तब गिरफ्तार किया गया था. सीबीआई रिश्वत लिए जाने की सूचना पर उनके घर पहुंची थी और उन्हें उस समय पकड़ा गया जब उनके घर में उन्हें 50 लाख रुपये की कथित घूस दी जा रही थी. केंद्र सरकार ने भ्रष्टाचार के आरोपी रविंदर समेत अन्य अधिकारियों को वर्ष 2019 में केंद्रीय सिविल सेवा आचरण नियमावली की नियम संख्या 56 जे के तहत अनिवार्य रूप से सेवानिवृत्त कर दिया था.

पांच साल में पूर्व आयकर अधिकारी और उनकी पत्नी ने जुटाए 2.32 करोड़
सीबीआई ने कहा था कि जांच अवधि ‘एक जनवरी 2005 से 29 अगस्त 2011 के बीच’ के दौरान पूर्व आयकर अधिकारी और उसकी पत्नी कविता अंदासु ने आय से अधिक रकम के रूप में 2.32 करोड़ रुपये की राशि एकत्र की.

दंपति से मिली रकम उनकी आय के स्रोतों के मुकाबले 171.41 फीसदी ज्यादा
इस मामले की जांच कर रही सीबीआई ने कहा कि दंपति के पास से मिली रकम उनकी आय के ज्ञात स्रोतों के मुकाबले 171.41 फीसदी अधिक है.

Tags: CBI, Money Laundering Case, New Delhi news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें