होम /न्यूज /राष्ट्र /मंकीपॉक्स और स्मॉलपॉक्स में क्या है अंतर? जानिए कैसे करें बचाव और इलाज

मंकीपॉक्स और स्मॉलपॉक्स में क्या है अंतर? जानिए कैसे करें बचाव और इलाज

विशेषज्ञों का कहना है कि संक्रमण एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में भी फैलता है, लेकिन यह वायरस फैलने की आम वजह नहीं है. (सांकेतिक तस्वीर)

विशेषज्ञों का कहना है कि संक्रमण एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में भी फैलता है, लेकिन यह वायरस फैलने की आम वजह नहीं है. (सांकेतिक तस्वीर)

Monkeypox Vs Smallpox: मंकीपॉक्स और चेचक के बीच मुख्य अंतर यह है कि फ्लू जैसे लक्षणों के अलावा, मंकीपॉक्स शरीर में मौजू ...अधिक पढ़ें

नई दिल्ली. दुनियाभर में मंकीपॉक्स के कई मामले सामने आए हैं. इनमें अमेरिका, कनाडा, ऑस्ट्रेलिया और ब्रिटेन शामिल हैं. पहले यह वायरस मुख्य रूप से अफ्रीका में पाया जाता था, लेकिन अब तेजी से फैल रहा है. इस कारण यह चिंता का विषय बन गया है. मंकीपॉक्स से प्रभावित व्यक्ति में लक्षण लगभग एक हफ्ते के अंदर ठीक हो जाते हैं, लेकिन कुछ लोगों में यह संक्रमण गंभीर हो सकता है. मंकीपॉक्स और स्मॉलपॉक्स के कई लक्षण एक समान होते हैं, ऐसे में इनमें अंतर कर पाना थोड़ा मुश्किल हो सकता है. हिंदुस्तान टाइम्स डिजिटल के साथ एक साक्षात्कार में मुंबई स्थित मसीना हॉस्पिटल में कंसल्टिंग चेस्ट एंड ट्यूबरकुलोसिस फिजिशियन डॉ सुलेमान लधानी ने मंकीपॉक्स और स्मालपॉक्स (चेचक) में अंतर के बारे में बताया. आइए समझते हैं.

  • मंकीपॉक्स और चेचक के बीच समानताएं क्या हैं?

    मंकीपॉक्स, स्मॉलपॉक्स यानी चेचक की तरह होता है. यह आमतौर पर अफ्रीका में पाया जाता है. यह चेचक की तुलना में हल्का होता है. यह ऑर्थोपॉक्स वायरस से संबंधित होता है. इसके लक्षण चेचक के समान होते हैं, जैसे बुखार, सिरदर्द, या दाने और फ्लू. मंकीपॉक्स से प्रभावित व्यक्ति तीन हफ्ते के अंदर ठीक हो जाते हैं.
  • मंकीपॉक्स और चेचक में क्या अंतर है?

    मंकीपॉक्स और चेचक के बीच मुख्य अंतर यह है कि फ्लू जैसे लक्षणों के अलावा, मंकीपॉक्स शरीर में मौजूद ग्रंथियों को बढ़ा देता है, जो हमें दोनों के बीच अंतर करने में मदद करता है. मंकीपॉक्स और चेचक के लक्षणों की तुलना करते हुए डॉ लधानी ने कहा कि चेचक की तुलना में मंकीपॉक्स के लक्षण बहुत हल्के होते हैं और इससे मृत्यु दर लगभग 10% है. दोनों के बीच दूसरा अंतर यह है कि मंकीपॉक्स बंदरों, गिलहरियों जैसे जानवरों के काटने या खरोंच से, या इन संक्रमित जानवरों का रक्त, शरीर के तरल पदार्थ या घावों के सीधे संपर्क में आने से फैलता है.
  • मंकीपॉक्स कैसे फैल सकता है?

    विशेषज्ञों का कहना है कि संक्रमण एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में भी फैलता है, लेकिन यह वायरस फैलने की आम वजह नहीं है. यह उस समय फैलता है, जब आप एक व्यक्ति के खांसने या छींकने पर निकलने वाली एयरड्रॉप के संपर्क में आते हैं. इसके लिए लंबे समय तक आमने-सामने रहने की आवश्यकता होती है. इसके अलावा यह शरीर के तरल पदार्थों के माध्यम से भी हो सकता है. यह यौन संबंध बनाते समय भी एक शख्स से दूसरे व्यक्ति तक पहुंच सकता है. यह वायरस से दूषित सामग्री के प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष संपर्क से भी फैल सकता है, इसमें संक्रमित व्यक्ति या जानवर द्वारा उपयोग किए जाने वाले कपड़े और रक्तस्राव शामिल हैं.
  • मंकीपॉक्स का इलाज क्या है?

    डॉ लधानी कहते हैं कि इसका इलाज टिश्यू के नमूनों द्वारा किया जाता है और जहां तक उपचार का संबंध है, यह ज्यादातर आत्म-सीमित है और दो से तीन सप्ताह के समय में ठीक हो जाता है. इसका इलाज रोगसूचक प्रबंधन (symptomatic management) द्वारा किया जा सकता है.

  • चेचक क्या है और कैसे फैलता है?

    चेचक एक अत्यधिक संक्रामक और एक बहुत ही घातक बीमारी है. यह रोग अब समाप्त माना जाता है. 1977 के बाद से चेचक का कोई मामला नहीं आया है. चेचक का वायरस सीधे एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैलता है और यह सामान्य रूप से हवा में सांस लेने से फैलता है. यह संक्रमित लोगों के कपड़ों के संपर्क में आने से भी फैल सकता है.
  • Tags: Coronavirus, Health

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें