लाइव टीवी

लौट रहा है मानसून फिर भी देश के इन हिस्सों में आने वाले दिनों में हो सकती है झमाझम बारिश

News18Hindi
Updated: September 29, 2019, 9:47 PM IST
लौट रहा है मानसून फिर भी देश के इन हिस्सों में आने वाले दिनों में हो सकती है झमाझम बारिश
30 सितंबर को आधिकारिक तौर पर मानसून की वापसी हो रही है लेकिन अभी भी देश के कई राज्यों में बारिश हो सकती है.

भारतीय मौसम विभाग (India Meteorological Department) के पूर्वानुमान के अनुसार 3 अक्टूबर तक देश भर के इन राज्यों में सामान्य और सामान्य से अधिक बारिश हो सकती है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 29, 2019, 9:47 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. भारतीय मौसम विभाग (India Meteorological Department) के महानिदेशक मृत्युंजय महापात्र ने रविवार को बताया कि चार महीने तक चला मानसून (Monsoon) सीजन आधिकारिक तौर पर सोमवार को खत्म हो रहा है. लेकिन इसकी संभावना नहीं है कि यह आने वाले सप्ताह में वापस आ जाएगा. मानसून सीजन 1 जून को आधिकारिक तौर पर शुरु हुआ था और यह 30 सितंबर को खत्म हो रहा है. यह पश्चिमी राजस्थान (Western Rajasthan) के गंगानगर (Ganganagar) में पहुंच गया है और ये देश में मानसून के लिए आखिरी जगह है जहां 15 जुलाई को मानसून पहुंचता है और 1 सितंबर से पीछे हटना शुरू कर देता है.

महापात्रा ने कहा, हालांकि जो हालात बन रहे हैं उनसे मानसून की वापसी के संकेत नहीं मिल रहे हैं. इसके बजाय, अभी भी राजस्थान (Rajasthan), बिहार (Bihar) और उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के कुछ हिस्सों में सक्रिय मानसून है. गुजरात (Gujarat) और राजस्थान के कुछ हिस्सों में कम दबाव के क्षेत्र के कारण वर्षा हो रही है और यह 5 अक्टूबर तक जारी रह सकती है.

इस हफ्ते यहां हो सकती है बारिश
मौसम विभाग के पूर्वानुमान के अनुसार 3 अक्टूबर तक बिहार और पूर्वी उत्तर प्रदेश, झारखंड (Jharkhand) और पश्चिम बंगाल (West Bengal) में गंगा के तटीय इलाकों के आस-पास भारी बारिश हो सकती है. वहीं पंजाब (Punjab), मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh), आंतरिक महाराष्ट्र (interior Maharashtra), उत्तर ओडिशा (Uttar Odisha), गुजरात, मिजोरम (Mizoram), त्रिपुरा (Tripura), केरल (Kerala) और लक्षद्वीप (Lakshadweep) में सामान्य बारिश होने की संभावना है.

IMD, rains

महापात्र ने कहा कि संभवत: इस बार यह मानसून की सबसे लंबे समय की वापसी हो सकती है. मौसम विभाग ने कहा कि 1960 में ऐसा ही हुआ था. महापात्र के पूर्ववर्ती केजे रमेश ने कहा कि अतीत में ऐसे उदाहरण हैं कि जब मानसून अक्टूबर के पहले सप्ताह में वापस लौट आया हो.

रमेश ने कहा, यह देखा गया है कि मानसून की देर से वापसी 2010 के बाद से बढ़ रही है. अब तक कुल मिलाकर, देश में सामान्य से 9 फीसदी अधिक बारिश हुई है.
Loading...

देश भर में इस तरह हुई है बारिश
आईएमडी के चार मौसम विभाग में से, पूर्व और उत्तर-पूर्व भारत और उत्तर-पश्चिम भारत के डिवीजनों में क्रमशः शून्य से 13 और 3 प्रतिशत वर्षा की कमी दर्ज की गई है.

पूर्व और पूर्वोत्तर भारत में पश्चिम बंगाल, झारखंड, बिहार और सभी सात पूर्वोत्तर राज्य शामिल हैं. उत्तर-पश्चिम भारत विभाजन में उत्तर प्रदेश, राजस्थान, हरियाणा, पंजाब, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, जम्मू और कश्मीर और दिल्ली शामिल हैं.

मध्य भारत के महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, ओडिशा, छत्तीसगढ़, गुजरात और गोवा राज्यों में सामान्य से 28 फीसदी अधिक बारिश दर्ज की गई है.

वहीं दक्षिण प्रायद्वीप में कर्नाटक, केरल, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, तमिलनाडु, पुडुचेरी, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह और लक्षद्वीप द्वीप समूह शामिल हैं, जिनमें 16 प्रतिशत अधिक वर्षा दर्ज की गई है.

ये भी पढ़ें-
बिहार में बाढ़ से 23 की मौत: घरों-हॉस्पिटल में घुसा पानी, कई ट्रेनें रद्द

देखें PHOTOS: बिहार की बाढ़ में कैसे आग लगा रही है ये मॉडल, सोशल मीडिया पर धूम

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 29, 2019, 8:19 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...