उत्तर भारत में झमाझम बरस रहा मानसून, जानें किस राज्य में कब तक बरसेंगे बादल

मुंबई में भारी बारिश के कारण सड़कों पर हुआ जलभराव. (Pic- AP)

IMD Rain Alert: मौसम विभाग (IMD) ने उत्तर भारत में 21 जुलाई तक और पश्चिमी तटवर्ती क्षेत्रों में 23 जुलाई तक भारी बारिश का अनुमान जताया है.

  • Share this:
    नई दिल्‍ली. मानसून (Monsoon) अब पूरे उत्तर भारत में फैल चुका है. रविवार से ही दिल्‍ली-एनसीआर, उत्तर प्रदेश, राजस्‍थान, हिमाचल, उत्तराखंड जैसे राज्‍यों में बारिश (IMD Rain Alert) हो रही है. वहीं मुंबई और आसपास के इलाकों में भी बारिश का दौर जारी है. मौसम विभाग (IMD) ने उत्तर भारत में 21 जुलाई तक और पश्चिमी तटवर्ती क्षेत्रों में 23 जुलाई तक भारी बारिश का अनुमान  जताया है. मौसम विभाग ने आगाह किया था कि भारी बारिश के चलते खुले में रहने वाले लोग और जानवर हताहत हो सकते हैं.

    उत्तर भारत में भारी बारिश का अनुमान
    आईएमडी के अनुसार पश्चिमी हिमालयी क्षेत्र (जम्मू कश्मीर, लद्दाख, गिलगित, बाल्टिस्‍तान और मुजफ्फराबाद, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड) और इससे सटे उत्तर-पश्चिम भारत यानी पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश के उत्तरी हिस्सों में 21 जुलाई तक भारी से बहुत भारी बारिश होने का पूर्वानुमान है. उत्तराखंड और उत्तर प्रदेश के उत्तर-पश्चिमी हिस्सों में कुछ स्थानों पर भी 19 जुलाई को अत्यधिक वर्षा का अनुमान है. दिल्ली और चंडीगढ़ में भी 19 जुलाई को छिटपुट स्थानों पर मध्यम से भारी वर्षा की संभावना है.

    मौसम विभाग ने कहा है कि पश्चिमी और दक्षिणी भारत में भी भारी बारिश होने की संभावना है. अगले पांच-छह दिनों के दौरान पश्चिमी तट और आसपास के क्षेत्रों में भारी से बहुत भारी बारिश जारी रहने का अनुमान है. महाराष्ट्र के कुछ हिस्सों में भारी बारिश होगी.

    मुंबई में 31 लोगों की मौत
    मुंबई में सोमवार को लोगों को भारी बारिश से थोड़ी राहत मिली और लोकल ट्रेन और बस सेवाएं एक बार फिर सामान्य होती दिखीं. भारी बारिश के कारण हुए हादसों में रविवार को मुंबई में 31 लोगों की मौत हो गई थी. अधिकारियों ने बताया कि रविवार को मूसलाधार बारिश के कारण कई स्थानों पर पानी भर गया था, जिस कारण लोकल ट्रेन तथा बस सेवाएं प्रभावित हुई थीं.

    बृहन्मुंबई महानगरपालिका (बीएमसी) के एक अधिकारी ने सोमवार को बताया कोई और हादसा नहीं हुआ है. मुंबई के पूर्वी उपनगरों में सोमवार सुबह आठ बजे तक पिछले 24 घंटे की अवधि में सबसे अधिक 90.65 मिमी बारिश दर्ज की गई, जबकि द्वीप शहर में 48.88 मिमी बारिश और पश्चिमी उपनगरों में 51.89 मिमी बारिश हुई.

    आईएमडी ने इससे पहले सोमवार को मुंबई के लिए ‘ऑरेंज अलर्ट’ जारी किया था और कुछ स्थानों पर भारी से बहुत अधिक भारी बारिश का पूर्वानुमान लगाया था. बीएमसी के अधिकारियों ने बताया कि शहर और उपनगरों में मध्यम से भारी बारिश/गरज के साथ छींटे पड़ने और कुछ स्थानों पर बहुत भारी से अत्यधिक भारी बारिश का पूर्वानुमान है.

    राजस्‍थान में भी भारी बारिश
    दक्षिण-पश्चिम मानसून के एक बार फिर जोर पकड़ने से राजस्थान में जोरदार बारिश हो रही है और बीते चौबीस घंटे में कई जगहों पर बेहद भारी बारिश दर्ज की गई. इस दौरान बहरोड़ (अलवर) में सर्वाधिक 195 मिमी बारिश हुई. मौसम केंद्र जयपुर के प्रवक्ता ने सोमवार को बताया कि बीते चौबीस घंटे में राज्य के अलवर, झुंझुनू, कोटा, करौली एवं भरतपुर जिलों में भारी से अति भारी वर्षा दर्ज की गई.

    मौसम विभाग ने आगामी 24 घंटों में राज्य के जयपुर तथा भरतपुर संभाग के जिलों में कहीं-कहीं भारी बारिश का दौर जारी रहने की संभावना जताई है. राजधानी जयपुर में सोमवार सुबह से ही बादल छाए हुए हैं.

    गुजरात में अलर्ट
    मौसम विभाग की ओर से मंगलवार सुबह तक गुजरात के विभिन्न हिस्सों में भारी बारिश की संभावना जताई गई है. विभाग के कहा था कि दक्षिण गुजरात और आसपास के क्षेत्र में समुद्र तल से 2.1 किलोमीटर ऊपर चक्रवाती दबाव का क्षेत्र बन रहा है. विभाग ने 21 जुलाई तक मछुआरों को समुद्र में न जाने की सलाह दी है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.