होम /न्यूज /राष्ट्र /मोरबी ब्रिज हादसा: विपक्ष के 'मौत का पास', 'एक्ट ऑफ फ्रॉड' पर बीजेपी ने कहा- ये पॉलिटिक्स का टाइम नहीं

मोरबी ब्रिज हादसा: विपक्ष के 'मौत का पास', 'एक्ट ऑफ फ्रॉड' पर बीजेपी ने कहा- ये पॉलिटिक्स का टाइम नहीं

मोरबी ब्रिज हादसे में करीब 140 लोगों की मौत से फैलने वाले गुस्से को लेकर बीजेपी सतर्क.  (ANI)

मोरबी ब्रिज हादसे में करीब 140 लोगों की मौत से फैलने वाले गुस्से को लेकर बीजेपी सतर्क. (ANI)

मोरबी ब्रिज हादसे को लेकर फैलने वाले गुस्से को लेकर सतर्क भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने विपक्ष के आरोपों पर कहा कि ये स ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

यह मामला तूल पकड़ता है तो गुजरात बीजेपी के लिए इसके नतीजे चिंता पैदा करने वाले हो सकते हैं.
सीएम भूपेंद्र पटेल और गृह मंत्री हर्ष सांघवी खुद बचाव कार्यों को देखने के लिए मैदान में डटे हैं.
राज्य सरकार ने घटना की जांच के लिए एसआईटी के गठन की भी घोषणा की है.

गांधीनगर. गुजरात में विधानसभा चुनाव नजदीक हैं और ऐसे वक्त में मोरबी में रविवार को केबल ब्रिज गिरने के बाद करीब 140 लोगों की मौत हो गई. इससे फैलने वाले गुस्से को लेकर सतर्क भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने विपक्ष के आरोपों पर कहा कि ये संकट की घड़ी है और ये वक्त राजनीति करने का नहीं है. गुजरात सरकार ने हादसे की चपेट में आए लोगों को राहत पहुंचाने के लिए सभी संसाधन लगाए हैं और पार्टी का शीर्ष नेतृत्व लगातार घटनाक्रम पर नजर रखे हुए है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हादसे के शिकार हुए लोगों के लिए अनुग्रह राशि की घोषणा की है. जबकि केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह स्थिति की निगरानी कर रहे हैं.

अगर यह मामला तूल पकड़ता है तो गुजरात बीजेपी के लिए इस त्रासदी के नतीजे चिंता पैदा करने वाले हो सकते हैं. इसे देखते हुए मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल और राज्य के गृह मंत्री हर्ष सांघवी खुद राहत और बचाव कार्यों को देखने के लिए मैदान में डटे हैं. राज्य सरकार ने घटना की जांच के लिए एसआईटी के गठन की भी घोषणा की है. जबकि भाजपा को लगता है कि विपक्षी दल इस त्रासदी से राजनीतिक लाभ लेने की कोशिश कर सकते हैं. अभी तक तो कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे और सांसद राहुल गांधी ने पार्टी कार्यकर्ताओं से घायलों को हर संभव सहायता देने और लापता लोगों को खोजने में मदद करने के लिए कहा है. आम आदमी पार्टी (आप) की मोरबी इकाई ने भी बचाव अभियान में मदद के लिए अपने कैडर को जुटाया है.

बीजेपी के एक नेता ने News18 से बात करते हुए कहा कि हर कोई हर किसी की हरकतों पर नजर रख रहा है. मौतों पर राजनीति करते हुए कोई भी नहीं दिखना चाहता है. जबकि विपक्ष ने बड़े पैमाने पर भाजपा पर निशाना साधने में संयम बरता है, कुछ ऐसे भी लोग थे जो पीछे नहीं हटे. कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने पूछा कि क्या यह घटना ‘मानव निर्मित त्रासदी’ थी. जबकि दिग्विजय सिंह ने 2016 में एक फ्लाईओवर गिरने के बाद पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर पीएम नरेंद्र मोदी के हमले की याद दिलाई और पूछा कि क्या मोरबी त्रासदी एक ‘भगवान का कार्य है या धोखाधड़ी का कार्य है.’

गुजरात: मोरबी पुल हादसे में सांसद मोहन कुंदरिया की बहन के परिवार के 12 सदस्यों की मौत

सिक्किम के एआईसीसी प्रभारी डॉ अजय कुमार ने ट्वीट किया कि ‘अब तो मॉडल शब्द से डर लगता है, गुजरात में भ्रष्टाचार चारम पर है. मोरबी के पुल के साथ बीजेपी का मायाजाल टूटा.’ जबकि यूथ कांग्रेस के अध्यक्ष श्रीनिवास बीवी ने मरम्मत किए गए पुल तक पहुंचने के लिए 12 रुपये और 17 रुपये के पास की तस्वीरें ट्वीट करते हुए उन्हें ‘मौत के पास’ कहा. इस बीच कुछ भाजपा नेताओं ने इस त्रासदी के पीछे एक साजिश का संकेत दिया है. पार्टी नेता कपिल मिश्रा ने AAP से संबंधित हैंडल से ट्वीट के कुछ स्क्रीनशॉट साझा किए. जिन्होंने राज्य चुनावों में भाजपा को ‘झटका’ लगाने की चेतावनी दी थी.

Tags: BJP, Bridge Collapse, Gujarat

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें