लाइव टीवी

CAA लागू होने के बाद भारी संख्‍या में भारत छोड़ रहे बांग्‍लादेशी घुसपैठिए: BSF

भाषा
Updated: January 24, 2020, 9:22 PM IST
CAA लागू होने के बाद भारी संख्‍या में भारत छोड़ रहे बांग्‍लादेशी घुसपैठिए: BSF
बीएसएफ के एक अधिकारी ने सीएए को लेकर बयान दिया है.

बीएसएफ (BSF) के एक अधिकारी ने शुक्रवार को कहा कि भारत में सीएए लागू होने के बाद अवैध बांग्लादेशी प्रवासी (Illegal Migrants Bangladesh) देश छोड़ रहे हैं.

  • Share this:
कोलकाता. बीएसएफ (BSF) ने शुक्रवार को कहा कि सीएए (CAA) के लागू होने के बाद पिछले करीब एक महीने में स्वदेश लौटने वाले अवैध बांग्लादेशी प्रवासियों (Illegal Migrants Bangladesh) की संख्या में काफी बढ़ोतरी दर्ज की गई है. अर्द्धसैन्य बल के एक शीर्ष अधिकारी ने बताया कि पिछले एक महीने में पकड़े गए अवैध प्रवासियों की संख्या में बढ़ोतरी हुई है.

24 परगना जिले के रास्ते आ रहे हैं शरणार्थी
बीएसएफ के महानिरीक्षक (साउथ बंगाल फ्रंटियर) वाई बी खुरानिया ने संवाददाताओं से कहा कि उत्तर 24 परगना जिले के रास्ते ज्यादा संख्या में शरणार्थी वापस जा रहे हैं, जिसकी सीमा बांग्लादेश के साथ सटी हुई है. खुरानिया ने कहा, 'पिछले एक महीने में सीमावर्ती देश जाने वाले अवैध बांग्लादेशी प्रवासियों की संख्या में काफी वृद्धि हुई है. हमने केवल जनवरी में 268 अवैध बांग्लादेशी प्रवासियों को पकड़ा जिनमें से अधिकतर लोग पड़ोसी देश जाने की कोशिश कर रहे थे.'

देश छोड़ने वाले अधिकतर शरणार्थी करते थे ये काम

सीमा सुरक्षा बल के एक अन्य अधिकारी ने कहा कि देश छोड़ने वाले अधिकतर शरणार्थी देश में मिस्त्री, नौकर और घर की देखभाल करने का काम करते थे. उन्होंने कहा, 'देश छोड़ने की सर्वाधिक संख्या उत्तर 24 परगना जिले से है. उनमें से (शरणार्थी) अधिकांश बेंगलुरू और उत्तर भारत में रह रहे थे. कुछ मिस्त्री, नौकर, घर की देखभाल करने वाले और साफ-सफाई करने जैसे काम करते थे.'

BSF ने 2019 में 2194 बांग्लादेशियों को पकड़ा
अधिकारी ने कहा कि बीएसएफ ने 2019 में 2194 बांग्लादेशियों को पकड़ा था जिनमें से अधिकतर अवैध रूप से भारत में घुसने का प्रयास कर रहे थे. लेकिन पिछले वर्ष दिसम्बर से चीजें बदल गई हैं. पश्चिम बंगाल की बांग्लादेश के साथ करीब 2216 किलोमीटर लंबी सीमा लगी हुई है, जिनमें अधिकतर हिस्से में बाड़ नहीं है.

ये भी पढ़ें: बीजेपी सांसद पर केस दर्ज, सीएए का समर्थन कर रहे हिंदुओं की पानी सप्लाई रोकने का लगाया था आरोप

ये भी पढ़ें: 154 प्रबुद्ध नागरिकों की राष्ट्रपति से अपील, CAA विरोध के बहाने हिंसा करने वालों पर हो कार्रवाई

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 24, 2020, 9:16 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर