भारत में कोविड की दूसरी लहर में 2 लाख से ज्यादा मौतें, रोजाना करीब 2000 लोगों की गई जान

देश में कोरोना की दूसरी लहर में बहुत घातक थी.(Photo by Tauseef mustafa / AFP)

देश में कोरोना की दूसरी लहर में बहुत घातक थी.(Photo by Tauseef mustafa / AFP)

Coronavirus In India: भारत में जून में कोरोना के मामलों में गिरावट दर्ज की जा रही है. हालांकि मौतों की संख्या अब भी चिंता का सबब है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: June 11, 2021, 11:20 PM IST
  • Share this:

नई दिल्ली. देश में कोरोना वायरस संक्रमण (Coronavirus In India) की दूसरी लहर हद से ज्यादा घातक थी. कोरोना की दूसरी लहर में ही भारत में मृतकों (Covid-19 Deaths) की संख्या 2 लाख के पार हो गई और अब तक 3,59,676 लोगों की मौत हो चुकी है. दूसरी लहर में लगभग हर दिन 2,000 लोगों की मौत हुई है. साल 2020 में आई महामारी के बाद से हर पांच में तीन मौतों की वजह कोरोना वायरस संक्रमण है. अब तक कोविड के चलते हुई मौतों का लगभग 57 फीसदी सिर्फ हिस्सा दूसरी लहर का है. वैश्विक स्तर पर कोरोना से होने वाली मौतों पर नजर डालें तो ब्राजील में 102 दिनों में 2,25 लाख मौतें और अमेरिका में 1 मार्च से अब तक 82,738 लोगों की मौतें हुई हैं. यहां अब तक करीब 6.1 लाख लोगों की कोविड से जान जा चुकी है, जो पूरी दुनिया में सबसे ज्यादा है.

हालांकि भारत में जून में कोरोना के मामलों में गिरावट दर्ज की जा रही है. हालांकि मौतों की संख्या अब भी चिंता का सबब है. जून के पहले हफ्ते में 16,300 लोगों की मौत हुई. बीते दो दिनों में ही 5,873 मौतों की संख्या जोड़ी गई है. इसमें से 3,951 अकेले बिहार की संख्या है. इसके साथ ही उत्तराखंड में 779 मौतें रिवाइज्ड की गई.

Youtube Video

आंकड़ों में जिनता स्पष्टता होगी उतना ही मिलेगी मदद
महाराष्ट्र में कोविड से हुई मृत्यु के 11,000 मामले कोविड-19 से मौत के आंकड़ों में दर्ज नहीं होने की खबरों पर राज्य के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने कहा, 'जिले में कोविड-19 के निजी और सरकारी अस्पताल हैं. सरकारी अस्पतालों में कोरोना वायरस से मृत्यु के आंकड़े नियमित अपडेट किये जाते हैं, वहीं निजी अस्पतालों के आंकड़ों में देरी हो जाती है और इसलिए मामलों की संख्या में असमानता है. सभी निजी अस्पतालों से कोविड-19 से मृत्यु के मामलों की सूची नियमित देने को कहा गया है.' विशेषज्ञों का मानना भी है कि आंकड़ों में जिनता स्पष्टता होगी उतना ही स्थिति को नियंत्रित करने में मदद मिलेगी.


वहीं कोरोना के मामलों में बात करें तो भारत में रोजाना आने वाले मामलों में भी कमी आई है. भारत में अब तक कुल पुष्ट किए गए मामलों में से सिर्फ 62फीसदी दूसरी लहर का है. भारत में अब तक 2.29 करोड़ मामले पुष्ट किए गए हैं. वहीं अमेरिकी में 1 मार्च से अब तक 65.7 लाख केस ब्राजील में और अमेरिका में 48.7 लाख मामले अमेरिका में पाए गए हैं.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज