लाइव टीवी

वंदे भारत मिशन के तहत आ चुके हैं 20,000 से ज्यादा नागरिक, अब बढ़ाई जाएगी संख्या : हरदीप पुरी

News18Hindi
Updated: May 21, 2020, 4:19 PM IST
वंदे भारत मिशन के तहत आ चुके हैं 20,000 से ज्यादा नागरिक, अब बढ़ाई जाएगी संख्या : हरदीप पुरी
पुरी ने बताया कि वंदे भारत मिशन के दूसरे सप्ताह में, हमने संख्या में वृद्धि की, इसे दोगुने से अधिक कर दिया.

केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी (Civil Aviation Minister Hardeep Singh Puri) ने बताया कि वंदे भारत मिशन (Vande Bharat Mission) के दूसरे सप्ताह में, हमने संख्या में वृद्धि की, इसे दोगुने से अधिक कर दिया. हम लोगों को वापस लाने की संख्या को और बढ़ाने की योजना बना रहे हैं.

  • Share this:
नई दिल्ली. केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी (Civil Aviation Minister Hardeep Singh Puri) ने गुरुवार को वंदे भारत मिशन (Vande Bharat Mission) और 25 मई से शुरू हो रही घरेलू उड़ानों को लेकर विस्तृत जानकारी दी. पुरी ने कहा कि जब हमने 5 मई को वंदे भारत मिशन की घोषणा की, हम वर्चुअली मिले थे. 21 मई को हम सामने से मिल रहे हैं, ये इस बात को दर्शाता है कि हमने स्थिति को फिर से सामान्य बनाने और फिर से शुरू करने का आत्मविश्वास हासिल कर लिया है.

पुरी ने कहा, 'हम 20,000 से अधिक नागरिकों को विभिन्न जगहों से वापस ला चुके हैं. ठीक उसी समय हमने अपने आउटगोइंग एयरक्राफ्ट्स का इस्तेमाल जो नागरिक विदेश में रह कर नौकरी करते हैं और जिन्हें अन्य व्यावसायिक प्रतिबद्धताओं के कारण यात्रा करने की जरूरत है को विदेश पहुंचाने के लिए किया है.'

और नागरिकों को वापस लाने की हो रही कोशिश
उड्डयन मंत्री ने कहा, 'वंदे भारत मिशन के दौरान, हमारा प्रयास उन सभी को वापस लाने का नहीं था जो वापस आना चाहते थे. हमने विदेश में फंसे हमारे नागरिकों को निकालने पर स्पष्ट जोर दिया." पुरी ने बताया कि वंदे भारत मिशन के दूसरे सप्ताह में, हमने संख्या में वृद्धि की, इसे दोगुने से अधिक कर दिया. हम लोगों को वापस लाने की संख्या को और बढ़ाने की योजना बना रहे हैं. इसके अलावा एयर इंडिया, निजी वाहक भी इस प्रयास में शामिल हो रहे हैं.



दिल्ली से मुंबई फ्लाइट का होगा ये किराया


हरदीप सिंह पुरी ने कहा, 'घरेलू उड़ानों को खोलने के हमारे अनुभव के आधार पर, हमें कुछ प्रक्रियाओं को बदलना पड़ सकता है, तभी हम अंतरराष्ट्रीय उड़ानों के बारे में सोचेंगे.' उन्होंने कहा कि दिल्ली से मुंबई रूट पर न्यूनतम किराया 3500 रुपये होगा और अधिकतम 10,000 रुपये होगा, ये किराया फिलहाल तीन महीने के लिए लागू होगा.

मंत्रालय की ओर से जानकारी दी गई कि इन फ्लाइट्स के किराये में 40 प्रतिशत सीटें 3500 रुपये से 10000 के किराये के बीच में ही दी जाएंगी.

पुरी ने बताया कि एक सेल्फ डिक्लेरेशन या आरोग्य सेतु ऐप की मदद से यात्रियों के कोविड-19 लक्षणों से मुक्त होने का पता लगाया जाएगा. आरोग्य सेतु ऐप पर लाल स्टेट्स वाले यात्रियों को यात्रा करने की अनुमति नहीं दी जाएगी. उन्होंने बताया कि इस यात्रा के लिए एयरपोर्ट पर चेक इन की सुविधा नहीं होगी. इसके अलावा यात्रियों को सिर्फ एक बैग ले जाने की इजाजत ही होगी.

ये भी पढ़ें :-

मंत्रालय ने तय किया फ्लाइट्स का किराया, तीन महीने तक बस इतना ही होगा Air Fare

1 जून से चलने वाली ट्रेनों में बुकिंग की मची होड़, 2 घंटे में इतनी बुकिंग

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 21, 2020, 4:00 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading