छह महीने में 24 हजार बच्चियों के साथ दरिंदगी, वरिष्ठ वकील वी गिरी बनाए गए एमिकस क्यूरी

सुप्रीम कोर्ट रजिस्ट्री की रिपोर्ट के मुताबिक, इस साल एक जनवरी से 30 जून के बीच देश भर में पुलिस ने बच्चियों से दुष्कर्म के 24212 मामले दर्ज किए हैं.

News18 Uttar Pradesh
Updated: July 13, 2019, 6:33 AM IST
छह महीने में 24 हजार बच्चियों के साथ दरिंदगी, वरिष्ठ वकील वी गिरी बनाए गए एमिकस क्यूरी
सुप्रीम कोर्ट (फाइल फोटो)
News18 Uttar Pradesh
Updated: July 13, 2019, 6:33 AM IST
पिछले छह महीने में देश में देशभर में बच्चियों से दुष्कर्म की 24 हजार मामले दर्ज किए गए हैं. इस मामले में सुप्रीम कोर्ट ने स्वत: संज्ञान लेते हुए इस पूरे मामले का परीक्षण करने का निर्णय लिया है. इन घटनाओं पर सुप्रीम कोर्ट ने चिंता जताते हुए वरिष्ठ वकील वी गिरी को एमिकस क्यूरी नियुक्त किया.

चीफ जस्टिस रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली तीन सदस्यीय पीठ ने आंकड़े गिरी को देकर कहा है कि वह इसका अध्ययन करें और सोमवार को इसके बारे में सुझाव दें कि कोर्ट क्या निर्देश जारी कर सकता है.



चीफ जस्टिस गोगोई ने कहा कि हम इस पर गौर करेंगे कि क्या ऐसे मामलों के लिए फास्ट ट्रैक कोर्ट बनाई जा सकती है. क्या ऐसे मामलों के लिए स्पेशल कोर्ट बनाया जा सकता है. इस तरह की घटनाओं से आहत चीफ जस्टिस ने 1 जुलाई को सुप्रीम कोर्ट रजिस्ट्री को रिपोर्ट दाखिल करने के लिए कहा था.

उत्तर प्रदेश में बच्चियों के साथ यौन उत्पीड़न के मामले सबसे ज्यादा

सुप्रीम कोर्ट रजिस्ट्री की रिपोर्ट के मुताबिक, इस साल एक जनवरी से 30 जून के बीच देश भर में पुलिस ने बच्चियों से दुष्कर्म के 24212 मामले दर्ज किए हैं. इनमें से 11981 मामलों में जांच जारी है जबकि 12231 मामलों में आरोपपत्र दायर की जा चुकी है. बच्चियों के साथ यौन उत्पीड़न की घटनाओं में उत्तर प्रदेश पहले स्थान पर है. आंकड़ों के मुताबिक पिछले 6 महीने में यूपी में 3457, मध्य प्रदेश में 2389, राजस्थान में 1285, कर्नाटक में 1133, गुजरात में 1124, तमिलनाडु में 1043, केरल में 1012 और ओडिशा में 1005 मुकदमे दर्ज किए गए.

ये भी पढ़ें-
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...