PM की कोरोना पर मीटिंग से लेकर KKR के पहले मैच तक, आज इन खबरों पर रहेगी नजर

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) आज कोरोना वायरस (coronavirus) से सबसे ज्यादा प्रभावित 7 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए मीटिंग करेंगे.
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) आज कोरोना वायरस (coronavirus) से सबसे ज्यादा प्रभावित 7 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए मीटिंग करेंगे.

News18 आपके लिए कुछ ऐसी ही अहम खबरों की लिस्ट लेकर आया है, जिनपर आज दिनभर सबकी नजर रहेगी. एक नजर बुधवार 23 सितंबर की ताजातरीन खबरों पर...

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 23, 2020, 6:51 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. हर रोज हम अलग-अलग खबरों से दो-चार होते हैं. इनमें से कुछ ऐसी अहम खबरें होती हैं, जिनका हमारे जीवन पर असर पड़ता है. News18 आपके लिए कुछ ऐसी ही अहम खबरों की लिस्ट लेकर आया है, जिनपर आज दिनभर सबकी नजर रहेगी. एक नजर बुधवार 23 सितंबर की ताजातरीन खबरों पर...

1. प्रधानमंत्री मोदी की कोरोना के मुद्दे पर मुख्यमंत्रियों के साथ रिव्यू मीटिंग
>> प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) आज कोरोना वायरस (coronavirus) से सबसे ज्यादा प्रभावित 7 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए मीटिंग करेंगे. इस उच्च स्तरीय वर्चुअल मीटिंग के जरिए पीएम अलग-अलग राज्यों में कोविड-19 की स्थिति, तैयारियों और प्रबंधन की समीक्षा करेंगे.

>>पीएम मोदी की अध्यक्षता वाली इस वर्चुअल मीटिंग में महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश, कर्नाटक, उत्तर प्रदेश, तमिलनाडु, दिल्ली और पंजाब के मुख्यमंत्री शामिल होंगे. देश के 63 प्रतिशत से ज्यादा कोविड-19 के सक्रिय मामले इन्हीं सात राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से हैं. यहीं से कुल 65.5 प्रतिशत कुल कंफर्म केस और 77 प्रतिशत मौतें भी सामने आई हैं. (यहां पढ़ें पूरी खबर)
2. सुशांत केस में एनसीबी आज जया साहा को कर सकती है गिरफ्तार


>>सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput Death Case) के मामले मे जांच के 100 दिन पूरे होने जा रहे हैं, लेकिन सीबीआई इस मामले में नौ दिन चले अढाई कोस की तर्ज पर काम कर रही है. इस केस में ड्रग्स कनेक्शन की जांच कर रही एनसीबी आज जया साहा को गिरफ्तार कर सकती है. वहीं, ड्रग्स मामले में फिल्म निर्माता मधु मोंटिना से आज पूछताछ हो सकती है.

>>सुशांत सिंह राजपूत केस में सीबीआई की टीम जांच को आखिरी मुकाम पर पहुंचाने के लिए सात दिनों के लिए आज मुंबई जाएगी. फिलहाल सीबीआई को ऐसा कोई सबूत नही मिला है जिससे ये साबित होता हो कि सुशांत की हत्या की गई है. सीबीआई अब दिशा साल्यान के केस में इसका कोई कनेक्शन ढूंढने की कोशिश में है. हालांकि सीबीआई आधिकारिक तौर पर फिलहाल कोई बयान नहीं देने जा रही है. (यहां पढ़ें पूरी खबर)

3. IPL में आज कोलकाता नाइट राइडर्स और मुंबई इंडियंस का मुकाबला
>>कोलकाता नाइट राइडर्स की टीम अपना पहला मैच मुंबई इंडियंस के खिलाफ 23 सितंबर को खेलेगी, वहीं उनका आखिरी मैच राजस्थान से 1 नवंबर को है. पूरे टूर्नामेंट के दौरान 10 डबल हेडर मुकाबले खेले जाएंगे. वहीं प्लेऑफ के वेन्यू का ऐलान बाद में किया जाएगा.

>>टूर्नामेंट के दौरान शाम को शुरू होने वाले सभी मुकाबले 7.30 बजे शुरू होंगे वहीं दिन के मुकाबले 3.30 बजे शुरू होंगे.

4. कंगना रनौत का ऑफिस तोड़ने के मामले की बॉम्बे हाईकोर्ट में सुनवाई
>>बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत के दफ्तर पर अत‍िक्रमण के तहत तोडफोड करने के मामले में बुधवार को बॉम्बे हाईकोर्ट में सुनवाई होगी. बॉम्बे हाई कोर्ट ने कंगना रनौत के ऑफि‍स में तोड़फोड़ को लेकर सुनवाई के ल‍िए 22 सितंबर की तारीख दी थी. मामले में BMC के वकील ने कहा था कि कोर्ट के आदेश के बाद BMC का सारा काम रोक द‍िया गया था. बीएमसी द्वारा कंगना रनौत के दफ्तर पर तोड़फोड़ के बाद महाराष्ट्र सरकार और कंगना के बीच तनातनी लगातार बढ़ती जा रही है.

>>मामले में अब शिवसेना नेता संजय राउत व मुंबई महानगरपालिका के उस अधिकारी को भी पक्षकार बनना पड़ेगा, जिसने कंगना का ऑफिस तोड़ने का आदेश दिया था. बृहन्मुंबई नगर निगम (बीएमसी) ने हाल ही में उच्च न्यायालय में एक और हलफनामा दायर किया था, जिसमें कंगना के ऑफिस में तोड़फोड़ के खिलाफ याचिका दायर करने और दो करोड़ रुपये की क्षतिपूर्ति की मांग की गई थी.

5. सुदर्शन टीवी मामले में सुप्रीम कोर्ट में आज सुनवाई होगी
>> सुदर्शन टीवी मामले में आज फिर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई होगी. पिछली सुनवाई में केंद्र ने कोर्ट में नया हलफनामा दाखिल कर डिजिटल मीडिया के लिए दिशा-निर्देश जारी करने की अपील की थी. इसके बाद कोर्ट ने सुदर्शन टीवी को नया हलफनामा दाखिल करने की अनुमति दे दी. नया हलफनामा दाखिल कर सुदर्शन चैनल कोर्ट को बताएगा कि कार्यक्रम में वह किस तरह का बदलाव करेगा.

>>इससे पहले सुप्रीम कोर्ट ने गैर सरकारी संगठन ‘जकात फाउंडेशन’ से पूछा कि क्या वह सुदर्शन टीवी मामले में हस्तक्षेप करना चाहता है, क्योंकि इसमें उसकी भारतीय शाखा पर विदेश से आतंकी संगठनों से वित्तीय मदद मिलने का आरोप लगाया गया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज