Home /News /nation /

पैसों की खातिर कलियुगी मां ने बेटी की करा दी 6 बार शादी

पैसों की खातिर कलियुगी मां ने बेटी की करा दी 6 बार शादी

प्रतीकात्मक तस्वीर

प्रतीकात्मक तस्वीर

    वो हर बार बिकी. हर बार दुलहन बनी पर पता नहीं कि उसका दूल्हा कौन था या खरीददार कौन था. एक बार नहीं बल्कि छह बार उसे बेचा गया. तैयारी सातवीं बार की थी, लेकिन वो दर्द से इतनी बार गुजरी कि इंतहा हो गयी तो उसके भी सब्र का बांध टूट गया.

    हम महाराष्ट्र के नागपुर शहर से महज 60 किलोमीटर दूर भंडारा की बात कर रहे हैं. अनामिका ( बदला हुआ नाम)  नाम की इस लडकी को बेचने वाला कोई और नहीं, बल्की वो महिला थी जिसने अपनी कोख़ से उसे जन्म दिया था. पैसे के लालच में वैशाली रहांगडाले नाम की इस मां ने अपनी ही बेटी को एक दो बार नहीं बल्की 6 बार बेच दिया.

    कलयुगी मां की ये कहानी हैं भंडारा जिले के लाखनी तहसील की. अनामिका  की उम्र जब महज 15 साल की थी, तब उसे पहली बार उसकी मां ने पैसों के लालच में उसकी शादी एक शख्स से करवा दी. 6 महीने अनामिका के पति ने उसका शारीरक और मानसिक शोषण किया. इस शोषण से तंग आकर अनामिका ने खुदकुशी करने की कोशिश की, लेकिन डॉक्टरों ने अनामिका को बचा लिया.

    इसके बाद अनामिका की मां उसे फिर अपने घर लाई. अपनी बेटी को सहारा देने के बजाय फिर एक बार आरोपी मां ने कुछ दिनों बाद उसकी शादी फिर एक और शख्स से करा दी. यहां भी अनामिका सिर्फ एक महीना ही रही. फिर यूपी, गुजरात में भी अनामिका को पैसे के लिये बेचा जाता रहा. अनामिका की मां शादी के लिए ऐसे लोगों को तलाशती थी जो सिर्फ अपने शारिरीक जरूरत के लिये शादी करना चाहता हो और इसके बदले वो लाखों रुपये दें. हर शादी के लिये अनामिका की मां को कम से कम 1 से डेढ़ लाख रुपये मिलते थे.

    अनामिका जब तक 21 साल की होती, तब तक उसकी 6 बार शादी करवा चुकी थी.  पिछले 6 वर्षों में अऩामिका की मां ने उसे बेचकर कम से कम 5 लाख से ज्यादा रुपये कमाये. आरोपी मां सातवीं बार भी अनामिका की शादी करवाने की कोशिश कर रही थी लेकिन अनामिका के सब्र का बाँध टूट चुका था. वो किसी तरह वहां से भागकर पुलिस के पास पहुंच गयी और अपनी आपबीती बता दी.

    पुलिस ने पीड़िता की शिकायत पर आरोपी मां वैशाली और उसके एक साथी को गिरफ्तार कर लिया है. साथ ही पुलिस उन लोगों की भी तलाश कर रही हैं जिनसे अनामिका की शादी करवाय़ी गई थी. पीड़िता के शरीर पर जो ज़ख्म हैं वो शायद भर जायें, लेकिन पिछले 6 वर्षों में जो घाव इस मासूम के मन को लगे हैं, शायद ही कभी वो भर पायें.

    Tags: क्राइम, महाराष्ट्र

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर