लाइव टीवी

CAA के समर्थन में प्रदर्शन कर रहे लोगों को थप्‍पड़ जड़ने वालीं डिप्‍टी कलेक्‍टर का परिवार करता है ये काम

News18Hindi
Updated: January 20, 2020, 4:28 PM IST
CAA के समर्थन में प्रदर्शन कर रहे लोगों को थप्‍पड़ जड़ने वालीं डिप्‍टी कलेक्‍टर का परिवार करता है ये काम
मध्‍य प्रदेश के राजगढ़ जिले की डिप्‍टी कलेक्‍टर प्रिया वर्मा का एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें वह सीएए के समर्थन में रैली कर रहे लोगों को थप्‍पड़ जड़ती दिख रही हैं.

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में राजगढ़ (Rajgarh) जिले के ब्‍यावरा कस्‍बे में बीजेपी (BJP) की स्‍थानीय इकाई ने रविवार को नागरिकता संशोधन कानून 2019 (CAA 2019) के समर्थन में प्रदर्शन किया. इस दौरान एडीएम प्रिया वर्मा (ADM Priya Verma) ने प्रदर्शन रोकने की बात नहीं मानने पर प्रदर्शनकारियों को थप्‍पड़ (Slapped) मारना शुरू कर दिया. इसी दौरान किसी ने उनके साथ अभद्रता कर दी. इस पूरे मामले का वीडियो वायरल (Viral Video) हो गया है. इसको लेकर सोशल मीडिया दो धड़ों में बंट गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 20, 2020, 4:28 PM IST
  • Share this:
विवेक त्रिवेदी

राजगढ़. मध्‍य प्रदेश के राजगढ़ (Rajgarh) जिले में ब्‍यावरा कस्‍बे (Beora Town) में बीजेपी (BJP) की स्‍थानीय इकाई ने नागरिकता संशोधन कानून 2019 के समर्थन में रविवार को रैली (Pro-CAA Rally) का आयोजन किया था. रैली का एक वीडियो तेजी से वायरल (Viral Video) हो रहा है. इस वीडियो में एक महिला भीड़ में घुसकर प्रदर्शनकारियों को पीटती हुई दिख रही है. वह प्रदर्शनकारियों को थप्‍पड़ जड़ने के साथ ही पुलिस के हवाले करती जा रही है. मीडिया की सुर्खियों के साथ ही सोशल मीडिया में छाई ये महिला राजगढ़ जिले की 24 वर्षीय डिप्‍टी कलेक्‍टर प्रिया वर्मा (ADM Priya Verma) हैं.

पुलिस ने 650 प्रदर्शनकारियों पर दर्ज किया मामला
एडीएम प्रिया वर्मा और कलेक्‍टर निधि निवेदिता ने नागरिकता कानून के समर्थन में रविवार को आयोजित बीजेपी की रैली रोकने की कोशिश की. जब प्रदर्शनकारियों ने उनकी बात नहीं मानी तो प्रिया वर्मा की बीजेपी कार्यकर्ताओं से बहस हो गई. इसके बाद एडीएम वर्मा ने प्रदर्शनकारियों को थप्‍पड़ मारने शुरू कर दिए. इसी दौरान किसी प्रदर्शनकारी ने उनकी चोटी खींच दी. कलेक्‍टर निधि निवेदिता (Nidhi Nivedita) के साथ भी प्रदर्शनकारियों ने अभद्रता की. इस मामले में पुलिस ने कार्रवाई शुरू कर दी है. पुलिस ने 650 लोगों के खिलाफ धारा-144 के उल्‍लंघन को लेकर मामला दर्ज किया है. पुलिस और कार्यकर्ताओं के बीच हुई झड़प के वायरल वीडियो पर सोशल मीडिया दो धड़ों में बंट गया है.

एडीएम प्रिया वर्मा के पिता चलाते हैं जनरल स्‍टोर
एडीएम प्रिया वर्मा का जन्‍म इंदौर के मंगलिया गांव के एक सामान्य परिवार में हुआ है. उनके पिता एक जनरल स्‍टोर चलाते हैं. News18 को दिए एक साक्षात्‍कार में प्रिया वर्मा ने बताया था कि उनके माता-पिता उनके लड़की होने के कारण उनसे अच्‍छा व्‍यवहार नहीं करते थे. प्रिया वर्मा जब बड़ी हुईं तो उन्‍होंने इस भेदभाव और लिंगभेद को चुनौती की तरह लिया. उन्‍होंने फैसला किया कि एक दिन वह अपने माता-पिता को गर्व महसूस कराएंगी. प्रिया वर्मा ने आर्थिक तंगी और तमाम मुश्किलों से जूझते हुए मध्‍य प्रदेश लोकसेवा आयोग परीक्षा की तैयारी शुरू कर दी.

वर्मा ने खुद की मध्‍य प्रदेश पीसीएस की तैयारी प्रिया वर्मा ने एमपी पीसीएस की तैयारी के लिए किसी कोचिंग में एडमिशन नहीं लिया. उन्‍होंने खुद ही तैयारी शुरू कर दी. उन्‍होंने प्री-एग्‍जाम के लिए अपने सीनियर्स की भी मदद ली. जब उन्‍होंने प्री-एग्‍जाम में सफलता हासिल कर ली तो उनके माता-पिता ने उन्‍हें कोचिंग जॉइन करने की अनुमति दे दी. इसके बाद उनकी कड़ी मेहनत के कारण 2016 में वह डीएसपी के लिए चुन ली गईं. तब उनकी उम्र महज 21 साल थी. 2017 में एमपी पीसीएस में उनकी पूरे राज्‍य में चौथी रैंक आई और वह डिप्‍टी कलेक्‍टर के लिए चुनी गईं.

(राजगढ़ से मनीष राठौर के इनपुट के साथ.)

ये भी पढ़ें:-

कांग्रेस MLA ने कमलनाथ के खिलाफ खोला मोर्चा, चिट्ठी के जरिए लगाए ये आरोप

क्‍यों अखिलेश यादव के खेमे की ओर खिसक रहे हैं मायावती के पार्टी नेता?

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 20, 2020, 3:36 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर