• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • MP SEEKING TO CANCEL CM JAGAN MOHAN REDDYS BAIL ARRESTED IN ANDHRA PRADESH SEDITION CASE REGISTERED

आंध्र में CM रेड्डी की जमानत रद्द करने की मांग करने वाले सांसद गिरफ्तार, राजद्रोह का मामला दर्ज

कानुमुरी रघुराम कृष्णम राजू (फाइल फोटो: Twitter/@RaghuRaju_MP)

MP Arrested in Andhra Pradesh: सांसद की गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने जानकारी दी कि 'राजू के खिलाफ यह जानकारी मिली थी कि वे कुछ समुदायों के खिलाफ गलत भाषण दे रहे हैं और सरकार के खिलाफ असंतोष की भावना भड़का रहे हैं.'

  • Share this:
    हैदराबाद. YSR कांग्रेस के बागी नेता और नामसपुरम से सांसद कानुमुरी रघुराम कृष्णम राजू (Kanumuri Raghurama Krishnam Raju) को आंध्र प्रदेश सीआईडी (CID) ने शुक्रवार को गिरफ्तार कर लिया. राजू के खिलाफ राज द्रोह (Sedition) का मुकदमा भी दर्ज किया गया है. खास बात है कि कुछ दिनों पहले ही राजू ने राज्य के मुख्यमंत्री जगन मोहन रेड्डी (Jagan Mohan Reddy) को लेकर बयान दिया था, जिसमें उन्होंने सीबीआई (CBI) से आय से अधिक संपत्ति मामले में जगन की जमानत रद्द करने की मांग की थी.

    मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, राजू को उनके हैदराबाद स्थित आवास से गिरफ्तार किया गया. उनपर राज्य सरकार के सम्मान को नुकसान पहुंचाने के आरोप लगाए गए हैं. 59 वर्षीय सांसद ने राज्य में सत्तारूढ़ रेड्डी सरकार के खिलाफ भ्रष्टाचार के आरोप लगाए थे. उनके खिलाफ धारा 124A (राजद्रोह), 153A (अलग-अलग समूहों के बीच शत्रुता भड़काने) और 505 के तहत मामला दर्ज किया गया है.

    आंध्र के सीएम जगन ने की पीएम मोदी से अपील, फार्मा कंपनियों से शेयर करें Covaxin की टेक्नॉलॉजी

    सांसद की गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने जानकारी दी, 'श्री राजू के खिलाफ यह जानकारी मिली थी कि वे कुछ समुदायों के खिलाफ गलत भाषण दे रहे हैं और सरकार के खिलाफ असंतोष की भावना भड़का रहे हैं.' उन्होंने कहा, '...यह पता चला है कि राजू अपने भाषणों से नियमित रूप से व्यवस्थित, योजनाबद्ध तरीकों से तनाव पैदा करने की कोशिश कर रहे थे... साथ ही वे सरकार में अलग-अलग पदों पर मौजूद लोगों पर इस तरह से हमले कर रहे थे, जिससे उनके प्रतिनिधित्व वाली सरकार में भरोसे को नुकसान पहुंचता.'


    क्या था मामला

    बीती 27 अप्रैल को राजू ने विशेष सीबीआई कोर्ट से सीएम जगनमोहन रेड्डी को मिली जमानत को रद्द करने के लिए कहा था. उन्होंने इस दौरान साल 2012 का आय से अधिक संपत्ति का मामला उठाया था. सांसद ने दावा किया था कि मुख्यमंत्री ने जमानत प्रावधानों का उल्लंघन किया था. राजू ने कई साल पहले YSR कांग्रेस छोड़ दी थी, जबकि 2019 लोकसभा चुनाव से तुरंत पहले उन्होंने दल में वापसी की. कांग्रेस से बाहर रहने के दौरान उन्होंने कई बार भारतीय जनता पार्टी और तेलुगु देशम पार्टी की सदस्यता भी ली.