• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • रविशंकर प्रसाद, मुकेश अंबानी को मिली एस्तोनिया की ई-रेजिडेंसी

रविशंकर प्रसाद, मुकेश अंबानी को मिली एस्तोनिया की ई-रेजिडेंसी

सबसे पहले अपना लक्ष्य तय करें और फिर उसे पाने के लिए पूरी मेहनत करें: मुकेश अंबानी ने नेसकॉम में बताया कि जीवन में आगे बढ़ने के लिए लक्ष्य तय करना जरूरी है. बिना लक्ष्य तय किए आप अपने पथ से भटक सकते हैं. आप बनना चाहते हैं वह कभी नहीं बन सकते. मुकेश अंबानी ने अपने किसी भी काम को शुरू करने से पहले लक्ष्य तय किया और फिर उस काम मेंं आगे बढ़ें.

सबसे पहले अपना लक्ष्य तय करें और फिर उसे पाने के लिए पूरी मेहनत करें: मुकेश अंबानी ने नेसकॉम में बताया कि जीवन में आगे बढ़ने के लिए लक्ष्य तय करना जरूरी है. बिना लक्ष्य तय किए आप अपने पथ से भटक सकते हैं. आप बनना चाहते हैं वह कभी नहीं बन सकते. मुकेश अंबानी ने अपने किसी भी काम को शुरू करने से पहले लक्ष्य तय किया और फिर उस काम मेंं आगे बढ़ें.

क्रुव ने कहा, 'बहुत प्रमुख लोग एस्तोनिया के ई-रेजिडेंट हैं. वर्तमान सूचना-प्रौद्योगिकी और कानून व न्याय मंत्री रविशंकर प्रसाद एस्तोनिया के ई-रेजिडेंट हैं. दिग्गज कारोबारी मुकेश अंबानी ई-रेजिडेंट हैं.'

  • Share this:
    केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद, देश के सबसे अमीर व्यक्ति मुकेश अंबानी और माइक्रोसॉफ्ट के संस्थापक बिल गेट्स उन लोगों में शामिल हैं, जिनके पास एस्तोनिया की ई-रेजिडेंसी है. भारत में एस्तोनिया के राजदूत रिहो क्रुव ने गुरुवार को यह जानकारी दी.

    दरअसल, एस्तोनिया दुनिया की कुछ प्रमुख शख्सियतों को सम्मान के रूप में ई-रेजिडेंसी प्रदान करता है. ई-रिसिडेंसी रखने वाला किसी भी देश का उद्यमी यूरोपीय संघ में ऑनलाइन तरीके से कंपनी चला सकता है.

    ई-रेजिडेंसी प्राप्त करने के बाद अंबानी के रिलायंस जिओ ने इस उत्तर पश्चिमी देश में एक अनुषंगी कंपनी की स्थापना की है. यह कंपनी वहां के डिजिटल और संचार क्षेत्र में काम करती है.

    क्रुव ने कहा, 'बहुत प्रमुख लोग एस्तोनिया के ई-रेजिडेंट हैं. वर्तमान सूचना-प्रौद्योगिकी और कानून व न्याय मंत्री रविशंकर प्रसाद एस्तोनिया के ई-रेजिडेंट हैं. दिग्गज कारोबारी मुकेश अंबानी ई-रेजिडेंट हैं.'

    उन्होंने बताया, 'पोप फ्रांसिस और बिल गेट्स भी ई-रेजिडेंट हैं. वैश्विक नेताओं को यह दर्जा दिया गया है और उन्होंने इसे स्वीकार किया है.'

    (डिस्क्लेमर: न्यूज़18 हिंदी रिलायंस इंडस्ट्रीज की कंपनी नेटवर्क18 मीडिया एंड इन्वेस्टमेंट लिमिटेड का हिस्सा है. नेटवर्क18 मीडिया एंड इन्वेस्टमेंट लिमिटेड का स्वामित्व रिलायंस इंडस्ट्रीज के पास ही है.)

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज