CWC की बैठक से पहले सोनिया गांधी से मिलने पहुंचे राहुल गांधी

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल(Ahmad Patel) , ए के एंटनी(AK Antony) , के सी वेणुगोपाल (KC Venugopalan) ने शुक्रवार को सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) से मुलाकात की.

News18Hindi
Updated: August 9, 2019, 9:36 PM IST
CWC की बैठक से पहले सोनिया गांधी से मिलने पहुंचे राहुल गांधी
कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल(Ahmad Patel) , ए के एंटनी(AK Antony) , के सी वेणुगोपाल (KC Venugopalan) ने शुक्रवार को सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) से मुलाकात की.
News18Hindi
Updated: August 9, 2019, 9:36 PM IST
लोकसभा चुनाव (Loksabha election 2019) में हार के बाद राहुल गांधी (Rahul Gandhi) के कांग्रेस (Congress) अध्यक्ष के पद से इस्तीफा देने के चलते नेतृत्व के संकट से जूझ रही पार्टी को जल्द ही नया अध्यक्ष मिल सकता है. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार कांग्रेस की सर्वोच्च इकाई कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक से पहले अध्यक्ष के नाम पर सहमति के लिए शुक्रवार को कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल, ए के एंटनी, के सी वेणुगोपाल ने सोनिया गांधी से मुलाकात की.

शनिवार को कांग्रेस की वर्किंग कमेटी (CWC) की बैठक होनी है जिसमें नए अध्यक्ष का नाम तय किया जा सकता है. मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो फिलहाल मुकुल वासनिक (Mukul Wasnik) इस रेस में सबसे आगे हैं. इससे पहले महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री सुशील कुमार शिंदे  (Sushil kumar shinde)का नाम भी अध्यक्ष पद के लिए आगे चल रहा था. शिंदे को पार्टी में एक प्रमुख दलित चेहरा माना जाता है और सबसे बढ़कर, उन्हें गांधी परिवार का पूरा भरोसा हासिल है.

इसके साथ ही दक्षिण के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे का नाम भी अध्यक्ष पद की रेस में है. साल 2014 से साल 2019 तक 16वीं लोकसभा में नेता विपक्ष रहे खड़गे गांधी परिवार के भी करीबी माने जाते हैं.

यहां पढ़ें Live Updates : 

>> सोनिया गांधी से मुलाकात करने राहुल गांधी भी पहुंचे.

>>देवड़ा ने दावा किया कि दोनों नेताओं को देश में लोग पसंद करते हैं और वह पार्टी को नए सिरे से शुरू कर सकते हैं.


Loading...

>>  कांग्रेस की यह बैठक शुरू होने के बाद मिलिंद देवड़ा ने कहा कि पार्टी के प्रशासनिक, सांगठनिक और चुनावी ढांचे के लिए मेरे दिमाग में दो युवा नेता हैं. देवड़ा ने अपने ट्वीट में 4 अगस्त को पीटीआई को दिए एक साक्षात्कार का जिक्र किया जिसमें उन्होंने राजस्थान के डिप्टी सीएम सचिन पायलट और मध्य प्रदेश कांग्रेस इकाई के नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया को बतौर अध्यक्ष अपनी पसंद बताई थी.

>>अध्यक्ष पद के लिए सचिन पायलट का भी नाम रेस में है.

>>सोनिया गांधी से मिलने के लिए अहमद पटेल, रिपुन बोरा, पी. चिदंबरम, अशोक गहलोत, जयराम रमेश, मोतीलाल वोहरा, पीसी चाको और पीएल पुनिया पहुंचे हैं.

युवा नेताओं की भी हुई थी चर्चा 
राहुल के इस्तीफे पर अड़ जाने के बाद कई युवा नेताओं को भी कांग्रेस की कमान सौंपे जाने की चर्चाएं सामने आयीं थीं. युवा नेताओं में ज्योतिरादित्य सिंधिया, मिलिंद देवड़ा और राजस्थान के डिप्टी सीएम सचिन पायलट का नाम सामने आया था. हालांकि आर्टिकल 370 हटाने के मामले में मोदी सरकार का समर्थन करने के बाद ज्योतिरादित्य और मिलिंद देवड़ा विवादों में आ गए हैं.

यह भी पढ़ें:  दलबदल का खेल, एनसीपी नेता ने थामा शिवसेना का दामन

कौन हैं वासनिक
महाराष्ट्र (Maharashtra) के दलित नेताओं में से मुकुल वासनिक, मनमोहन सरकार में मंत्री के रूप में काम कर चुके हैं. इस साल के अंत में होने वाले राज्य विधानसभा के चुनावों के साथ, पार्टी के भीतर यह विचार मंथन हो रहा है कि राज्य से अगले अध्यक्ष  बनाना कांग्रेस के लिए राजनीतिक रूप से फायदेमंद होगा.

खासकर जब प्रकाश अंबेडकर की रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया (आरपीआई) और असदुद्दीन ओवैसी की ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) ने कांग्रेस-राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) के वोट बेस में गंभीर सेंध लगाई है. गठबंधन को 11 सीटों पर हार का सामना करना पड़ा जहां आरपीआई और एआईएमआईएम द्वारा संयुक्त उम्मीदवार भारतीय जनता पार्टी के जीत के अंतर से अधिक वोट पा गए.

यह भी पढ़ें: कांग्रेस नेता कर्ण सिंह बोले- 370 हटाने में कई पॉजिटिव बातें

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 9, 2019, 7:22 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...