Home /News /nation /

मुंबई ड्रग्‍स केस के गवाह किरण गोसावी जूडिशियल कस्‍टडी में, पुणे कोर्ट ने दिया आदेश

मुंबई ड्रग्‍स केस के गवाह किरण गोसावी जूडिशियल कस्‍टडी में, पुणे कोर्ट ने दिया आदेश

पुणे की कोर्ट ने किरण गोसावी को जूडिशियल कस्‍टडी में भेज दिया है.

पुणे की कोर्ट ने किरण गोसावी को जूडिशियल कस्‍टडी में भेज दिया है.

मुंबई ड्रग्‍स मामले (Mumbai drugs case) से चर्चा में आए और नार्कोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) के स्वतंत्र गवाह किरण गोसावी (Kiran Gosavi) को पुणे की कोर्ट (Pune Court) ने न्‍यायिक हिरासत (judicial custody) में भेज दिया है. किरण गोसाबी को सबसे पहले 28 अक्‍टूबर को गिरफ्तार किया गया था और कोर्ट ने उसे पांच नवंबर तक पुलिस हिरासत में भेजा था. इसके बाद उसकी पुलिस हिरासत एक दिन के लिए और बढ़ा दी गई थी. गोसावी पर आरोप है कि उसने नौकरी दिलाने के नाम पर कुछ लोगों से ठगी की है.

अधिक पढ़ें ...

    पुणे . मुंबई ड्रग्‍स मामले (Mumbai drugs case) से चर्चा में आए और नार्कोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB)  के स्वतंत्र गवाह किरण गोसावी (Kiran Gosavi) को पुणे की कोर्ट (Pune Court) ने न्‍यायिक हिरासत (judicial custody) में भेज दिया है. किरण गोसावी को सबसे पहले 28 अक्‍टूबर को गिरफ्तार किया गया था और कोर्ट ने उसे पांच नवंबर तक पुलिस हिरासत में भेजा था. इसके बाद उसकी पुलिस हिरासत एक दिन के लिए और बढ़ा दी गई थी. गोसावी पर आरोप है कि उसने नौकरी दिलाने के नाम पर कुछ लोगों से ठगी की है. फरसखाना पुलिस स्टेशन में उस पर धोखाधड़ी का मामला दर्ज है.

    पुलिस अधिकारी ने बताया कि किरण गोसावी पर कुछ लोगों को विदेश में नौकरी लगवाने का झांसा देकर ठगी करने का आरोप है. उस पर आरोप है कि उसने 2020 में तीन लोगों को मलेशिया में नौकरी दिलाने का वादा किया था, और उनसे चार लाख रुपए भी ऐंठ लिए थे, लेकिन वह नौकरी नहीं दिला पाया था. बॉलीवुड स्‍टार शाह रुख खान के बेटे आर्यन खान जब ड्रग्‍स मामले में फंसे थे, तब किरण गोसावी की उनके साथ एक सेल्‍फी सोशल मीडिया में वायरल हो गई थी. किरण गोसावी को लेकर तमाम बातें सामने आईं थी, तभी पुलिस ने धोखाधड़ी मामले में वारंट जारी कर दिया था.

    ये भी पढ़ें :   यूपी विधानसभा चुनाव 2022: 40 फीसदी महिला आरक्षण का वादा करके फंस गई कांग्रेस, सामने आई ये वजह

    ये भी पढ़ें :  यूके-यूएस में कोवैक्सिन को मंजूरी, जानें अब कितने देशों की यात्रा कर सकते हैं भारतीय

    कई दिनों तक फरार रहे गोसावी को आखिरकार गिरफ्तार कर लिया था. गोसावी पर उनके गार्ड रहे प्रभाकर सैल ने भी आरोप लगाया है कि वह एनसीबी अधिकारियों के साथ मिलकर वसूली करते थे. इस मामले में एनसीबी और मुंबई पुलिस जांच कर रही है.

    गोसावी ने कहा था आरोप झूठा 

    समाचार एजेंसी एएनआई से बात करते हुए गोसावी ने कहा, झूठे आरोप. उन्होंने कहानियां गढ़ी हैं और जांच की दिशा बदल रहे हैं. यह मैं ही था जिसे धमकी दी जा रही थी कि मैंने ड्रग्स मामले के आरोपी की गिरफ्तारी की. मुझे फोन कॉल्स आए. दरअसल गोसावी के खिलाफ उनके ही पूर्व सहयोगी और केस के एक अन्य गवाह ने जबरन वसूली के आरोप लगाए थे. ‘स्वतंत्र गवाह’ और गोसावी के पूर्व ड्राइवर/अंगरक्षक प्रभाकर सेल ने दावा किया था कि ड्रग्स ऑन क्रूज मामले में गिरफ्तार आरोपी को छोड़ने के लिए एनसीबी के एक अधिकारी और निजी जासूस किरण गोसावी सहित अन्य लोगों द्वारा 25 करोड़ की मांग की गई थी.

    Tags: Judicial custody, Kiran Gosavi, Mumbai drugs case, Pune Court

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर